रीवा में राज्य सरकार पर गरजे Ex CM शिवराज, कहा: कमलनाथ जैसी बेईमान सरकार पहले कभी नहीं देखी

Uncategorized मध्यप्रदेश रीवा

रीवा। किसान आक्रोश आंदोलन की शिरकत करने रीवा आए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होने कमलनाथ जैसी बेईमान, झूठी एवं लुटेरी सरकार इसके पहले कभी नहीं देखी। सत्ता बदलने के बाद उन्हे उम्मीद थी कि कांग्रेस सरकार विकास एवं कल्याण के कार्य करेगी। लेकिन भारी हताशा और निराशा सामने आई है। पूरे प्रदेश में लूटो-खसोटो कार्यक्रम चलाया जा रहा है। भ्रष्टाचार के रिकार्ड टूटे हैं, तबादले को उद्योग का रूप दे दिया गया है। आईएएस, आईपीएस जैसे बड़े पदो ंके लिए मोलभाव किए जा रहे हैं। कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। विकास कार्य ठप्प पड़े हैं।

श्री सिंह ने कहा कि उनकी सरकार ने बाणसागर परियोजना से 5 लाख हेक्टेयर कृषक भूमि में सिंचाई करने के लिए नईगढ़ी, त्योंथर एवं बहुती परियोजनाओं के कार्यों को गति दी थी। लेकिन कांग्रेस के सरकार ने सभी कार्य ठप्प कर दिए हैं। सड़कों का कार्य ठप्प पड़ा हुआ है। सीएम कमलनाथ बड़ी बेशर्मी से कर्ज माफी का दावा करते हैं, जबकि रीवा का वंशपति साहू कर्जमाफी के हकीकत का गवाह है, जिसने बैंक की नोटिस एवं दबाव के चलते आत्महत्या कर ली। अतिवृष्टि से पूरे प्रदेश में फसलें चौपट हो गई लेकिन राज्य सरकार ने सर्वे तक नही कराया। मुआवजा देने के बजाय केन्द्र सरकार के खिलाफ धरने की नौटंकी कर रहे हैं। 

उन्होने कहा कि बिजली बिल के लिए उन्होने संबल योजना शुरू की थी, जिसे कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया एवं अब गरीब किसानों को हजारों-हजार का बिजली बिल भेजकर परेशान किया जा रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री ने किसानों से अपील की कि वे किसी तरह का कर्ज अदा न दें एवं न ही बिजली बिल का भुगतान करें। अगर उनकी बिजली काटी जाती है तो भाजपा के कार्यकर्ता जन आन्दोलन करेंगे।

श्री सिंह ने कहा कि नई सरकार को कामकाज सम्हाले 11 माह हो रहे हैं। वक्त है बदलाव का नारा देकर सुनहरे सपने दिखाने वाली कांग्रेस से ज्यादा वोट भाजपा ने पाए थें, बावजूद सीटों की दौड़ में 5 सीट भाजपा पीछे रह गई। बहुमत किसी के पास नहीं थी। वे चाहते तो सरकार बना सकते थें, लेकिन कांग्रेस को सरकार बनाने का मौका दिया। जिसने 11 माह में ही पूरे प्रदेश को बदहाल एवं बेहाल कर दिया है।

सरकार अन्याय करेगी तो चुप नहीं बैठेगी भाजपा
इसके पूर्व भारतीय जनता पार्टी उपाध्यक्ष एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किसान आक्रोश रैली को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार अन्याय करेगी, तो पार्टी के कार्यकर्ता और नेता चुप नहीं बैठेंगे। चौहान ने यहां भाजपा की ओर से आयोजित किसान आक्रोश आंदोलन में शिरकत की। इस अवसर पर पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल और अन्य पार्टी विधायक भी मौजूद थे।

चौहान ने कहा कि आज से पूरे प्रदेश में आंदोलन की शुरूआत हो रही है। अब हम सभी को अपने हक लेने के लिए संघर्ष करना है। अब हमें चुप नहीं बैठना है। अब हम सरकार को दिखाएंगे कि वे अन्याय होने की स्थिति में चुप बैठने वाले नहीं हैं।

चौहान को कुछ किसानों ने धान की खराब हुयी फसल के संबंध में भी अवगत कराया। किसानों का कहना था कि उन्हें अभी तक राहत या मुआवजा राशि नहीं मिली है।

Facebook Comments