रीवा: शिवराज सरकार ने नहीं डाला हाँथ, अब कमलनाथ सरकार ने कसा शिकंजा, इन भ्रष्टाचारियों से होगी वसूली 1

रीवा: शिवराज सरकार ने नहीं डाला हाँथ, अब कमलनाथ सरकार ने कसा शिकंजा, इन भ्रष्टाचारियों से होगी वसूली

Rewa Crime Madhya Pradesh
  • अध्यक्ष और सीएमओ ने किया 11 लाख का घपला, वसूली के निर्देश
  • नगर परिषद गुढ़ में खरीदी को लेकर की गई शिकायत की जांच के बाद हुई कार्रवाई
  • नगरीय प्रशसान विभाग ने माना कि आर्थिक अनियमितता हुई

रीवा। नगर परिषद गुढ़ के प्रशासन पर लंबे समय से भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे हैं। इनकी जांच के बाद दिए गए प्रतिवेदन के आधार पर माना गया है कि अध्यक्ष, सीएमओ और लेखापाल ने मिलकर ११ लाख से रुपए से अधिक की अनियमितता की है।

नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा जारी किए गए आदेश में उक्त राशि की वसूली करने को कहा गया है। यह सवाल विधानसभा में भी उठ चुका है। बताया गया है कि नगर परिषद में भ्रष्टाचार की कराई गई जांच के बाद प्रभारी सीएमओ आरएन तिवारी से पक्ष रखने के लिए समय दिया गया था लेकिन उनकी ओर से कोई सार्थक जवाब नहीं दिया गया। जिसके चलते वसूली करने का निर्देश जारी किया गया है।

कई आरोपों की जांच कराई गई, जिसमें नियमों का हवाला देते हुए सीएमओ ने अपना बचाव किया है। पेयजल की राशि से सड़क बनाए जाने का आरोप था, इसे समायोजित करने का दावा किया गया है। इसके अलावा खरीदी में नियमों की पूरी तरह से अनदेखी गई है और वरिष्ठ कार्यालय प्रशासकीय अनुमति नहीं ली गई। कुछ सामग्रियां निर्धारित दर से अधिक में खरीदकर निकाय को आर्थिक नुकसान पहुंचाया है।

इन सामग्रियों की खरीदी में की अनियमितता
जांच रिपोर्ट में कह गया है कि नगर परिषद में 11.86 लाख रुपए की अनियमितता की गई है। जिसमें ट्रेक्टर ट्राली खरीदने में एक लाख रुपए, यूरिनल खरीदी में २.०८ लाख, ह्यूम पाइप खरीद में 1.80 लाख, जलप्रदाय सामग्री खरीद में 3.32 लाख, लेपटाप खरीद में २० हजार, विद्युत सामग्री खरीद में 3.45 लाख रुपए की आर्थिक क्षति पहुंचाई गई है। इस राशि की वसूली कराने के लिए निर्देश दिया गया है।

वसूली के साथ रोकी तीन वेतन वृद्धियां
नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा अनियमितता की राशि वसूलने के साथ ही सीएमओ आरएन तिवारी द्वारा पदीय दायित्व के विपरीत कार्य करने पर तीन वेतन वृद्धियां असंचई प्रभाव से रोकने का आदेश दिया गया है। साथ ही वेतन से तीन लाख 95 हजार 434 रुपए की वसूली करने का आदेश जारी किया गया है।

अध्यक्ष से वसूली का निर्णय शासन करेगा
नगर परिषद गुढ़ के अध्यक्ष विष्णु प्रकाश मिश्रा इसके पहले कई आरोपों से घिरे रहे हैं। जांच में उनकी भी संलिप्तता पाई गई है। जिसके चलते अनियमितता की राशि को तीन भागों में बांटकर तीनों से बराबर वसूली कराने के लिए कहा गया है। सीएमओ से 3.95 लाख रुपए वसूली का आदेश विभाग ने जारी कर दिया है। वहीं तत्कालीन लेखापाल से भी इतनी ही राशि वसूल की जाएगी।

वहीं परिषद के अध्यक्ष विष्णुप्रकाश से भी 3.95 लाख रुपए वसूली का प्रस्ताव है। यह मामला शासन को भेजा गया है, वहीं से वसूली का आदेश जारी होगा। बता दें कि पूर्व में कलेक्टर की ओर से अध्यक्ष को पद से हटाने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया था उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिसके चलते विपक्ष के पार्षदों ने आरोप लगाया था कि भाजपा की सरकार होने के चलते अध्यक्ष को बचाया गयौं। अब सरकार बदली है तो उम्मीद जताई गई है कि कार्रवाई होगी।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •