भाजपा नहीं गिराएगी, खुद गिर जाएगी कमलनाथ सरकार, रीवा में बोले EX-CM शिवराज सिंह

Madhya Pradesh Rewa

रीवा। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी कमलनाथ की सरकार नहीं गिरायेगी बल्कि अंतर कलह से जूझ रही कांग्रेस की सरकार खुद गिर जाएगी । स्थानीय राज निवास में पत्रकारों से चर्चा करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चित्रकूट के एक निजी विद्यालय से अपहृत दो मासूम सगे भाइयों की जघन्य हत्या पर दुख जताते हुए उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए ।

श्री चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है , चारो तरफ अपराधियों का बोल बाला है लेकिन अब सहानुभूति से काम चलने वाला नहीं है , सरकार को कानून व्यवस्था दुरुस्त करनी चाहिए ताकि अब और बच्चे प्रियांशु और श्रेयांशु जैसे जघन्य हत्या का शिकार ना हो सके ।

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में 6 हत्याएं रोज हो रही है , 50 दिनों में 6 हजार से ज्यादा महिलाओं पर विभिन्न तरह के अपराध दर्ज हुए हैं । पूरे प्रदेश में लूट डकैती का बोल बाला है । सरकार कानून व्यवस्था दुरुस्त करने के बजाय ट्रांसफर करने में लगी हुई है । अधिकारी कर्मचारी दहशत में हैं कि कब उनका नम्बर आ जाये । इस तरह से प्रदेश नहीं चलता , उन्होंने कहा कि सीएम के पीछे सुपर सी एम बैठे हैं । प्रदेश में मिस्टर बंटाधार का रिटर्न हो चुका है , कोई कुर्सी पर बैठ कर सरकार चला रहा है तो कोई पीछे से सरकार चला रहा है ।

विधानसभा में सवाल उठाने वाले मंत्रियों को डांट फटकार लगाई जा रही है । प्रदेश का असली मुखिया कौन है यह पता ही नहीं चल पा रहा है , पूरे प्रदेश में दलाल सक्रिय है । कर्मचारियों अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है कि कब उनका तबादला कर दिया जाएगा । दो माह में ही प्रदेश में अजीब सी स्थिति निर्मित हो गई है । पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता भारी कष्ट में है जिसे निजात दिलाने के लिए भाजपा सड़क पर उतरेगी ।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कर्ज माफी को छलावा बताते हुए कहा कि सरकार को बजट में स्पष्ट प्रावधान करना चाहिए कि वह किसानों के कर्ज के लिए इतना बजट स्वीकृत कर रही है , उन्होंने कहा कि सहकारिता पर दबाव डाला जा रहा है कि वह कर्जमाफी की आधी राशि खुद वहन करे । किसानों की अंश पूंजी को ही किसानों को देकर कर्ज माफ किया जा रहा है । पत्रकारों के एक सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वीकार किया कि प्रदेश में भाजपा के हार की वजह वे खुद हैं ।

उन्होंने कहा कि चुनाव बाद सरकार न बनाने का निर्णय सोच समझ कर लिया गया था क्योंकि हम कुर्सी से चिपकने वालों में नहीं है । कांग्रेस का संख्या बल ज्यादा था इस वजह से उन्हें सरकार बनाने का पूरा अवसर दिया गया । पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी में विधायकों के भीतर भारी अंतर्विरोध है इस कारण यह सरकार खुद अपने आप गिर जाएगी , भाजपा सरकार नहीं गिरायेगी । ज्ञातव्य है कि लोकसभा चुनाव की तैयारी बैठक के सिलसिले में पूर्व मुख्यमंत्री सीधी जाते समय कुछ देर के लिए रीवा में रुके थे जहां राज निवास में उन्होंने पत्रकारों से बेबाक बातचीत की । इस मौके पर रीवा सांसद जनार्दन मिश्र के अलावा पूर्व मंत्री एवं विधायक राजेंद्र शुक्ला विधायक मनगवां पंचू लाल प्रजापति विधायक देवतालाब गिरीश गौतम विधायक सेमरिया केपी त्रिपाठी वरिष्ठ भाजपा नेत्री विमलेश मिश्र , राजगोपाल चारी सहित भाजपा के तमाम वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद रहे ।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •