बाघ के बाड़े में अब लगाए जाएंगे लोगों के लिए पिंजरे, ताकि न हो 2014 जैसा हादसा1 min read

Tourism

नई दिल्ली : दिल्ली के चिड़ियाघर में आम लोगों की सुरक्षा के लिए जू अथॉरिटी एक खास कदम उठाने जा रही है. करीब चार साल पहले 23 सितंबर 2014 को दिल्ली के चिड़ियाघर में एक व्यक्ति बाघ के बाड़े में गिर पड़ा था. इसके बाद सफेद बाघ ने उसे बुरी तरह क्षत विक्षत कर दिया था, जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी. ऐसे हादसे दोबारा न हों, इसके लिए अथॉरिटी अब बाघ के बाड़े में ह्यूमन आकार के पिंजरे लगाए जाएंगे. अथॉरिटी के अनुसार, ह्यूमन आकार के पिंजरे सभी बाघों के बाड़े में लगाए जाएंगे. ये काम अगले महीने तक पूरा हो जाएगा. ऐसे में अगर कभी दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से कोई बाड़े में गिर जाए तो उसमें घुसकर खुद को तब तक के लिए बचा सके, जब तक उसे वहां से सही सलामत निकाला नहीं जाता.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली जू की डायरेक्टर रेणु सिंह हमने काफी सोच समझने के बाद हम इस निर्णय पर पहुंचे हैं. पहला पिंजरा हम अगले 10 दिनों में लगा भी देंगे. उनका कहना है कि किसी भी जू में इस तरह के बचाव का पहला तरीका होगा. दूसरे चिड़ियाघर में ऐसी परिस्थितियों में बाघ को बेहोश करने की तकनीक अपनाते हैं. अगर ये मॉडल यहां कामयाब होता है तो यही तरीका दूसरी जगहों पर भी अपनाया जाएगा.

फिलहाल इस तरह के पिंजरे बाघ और भालू के बाड़े में लगाए जाएंगे, क्योंकि इन्हें देखने के लिए सभी में ज्यादा उत्सुकता होती है. सभी के बाहर एक बोर्ड लगा होगा, जिस पर निर्देश लिखा होगा कि अगर वह कभी ऐसी स्थिति में फंस जाएं तो फिर अपने आपको बचाने के लिए क्या करें. रेणु सिंह का कहना है कि इन पिंजरों को इस तरह बनाया गया है कि इसमें कोई भी अपने आपको आसानी से बंद कर सकेगा. एक बार अंदर जाने पर इसमें ताला लग जाएगा. बाहर से कोई भी जानवर इसके अंदर नहीं जा पाएगा.

Facebook Comments