टीम में सेलेक्शन के लिए मेरे पापा से मांगी गई थी रिश्वत: विराट कोहली

विराट ने अपनी उपलब्धि का श्रेय टीम को दिया

खेल

भारत ने पहले टेस्ट में वेस्टइंडीज को 318 रनों से हराया और 2 मैचों की सीरीज में 1-0 बढ़त ले ली। टीम के इस शानदार प्रदर्शन से कप्तान विराट कोहली बहुत खुश हैं। इस जीत के साथ ही विराट भारत के सबसे सफल कप्तान भी बन गए हैं। विराट ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय पूरी टीम को दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि वे दी गई जिम्मेदारी को बेहतर तरीके से निभा रहे हैं और टीम की सफलता में ज्यादा से ज्यादा योगदान दे रहे हैं।

जीत के बाद विराट ने टीम और अपने प्रदर्शन पर संतुष्टि जताई। उन्होंने कहा – मेरी ये उपलब्धि टीम के कारण ही है। मैं इसका पूरा श्रेय टीम को देता हूं। मुझे जो जिम्मेदारी दी गई, मैं बस उसे निभा रहा हूं। मैं पूरी ईमानदारी से इसे निभा रहा हूं और मैं खुश हूंं कि टीम की सफलता में मैं ज्यादा बेहतर तरीके से योगदान दे रहा हूं। मैं खुश हूं कि हम जो निर्णय और रणनीति बना रहे हैं वो खिलाड़ी बेहतर तरीके से मैदान ने अंजाम दे रहे हैं। टीम के बल्लेबाज, गेंदबाज सभी अपनी भूमिका निभा रहे हैं और इसके परिणाम सामने हैं।

विराट ने उपकप्तान अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी की तारीफ की। उन्होंने कहा – रहाणे ने मैच की दोनों पारियों में शानदार बल्लेबाजी की। दोनों पारियों में उन्होंने रन बनाए जिससे हम बड़ा स्कोर बना पाए। हनुमा विहारी ने भी अच्छी पारी खेली। हनुमा विहारी को लेकर विराट ने कहा – हनुमा अच्छे बल्लेबाज होने के साथ ही प्रभावशाली पार्ट टाइम बॉलर भी हैं, इसी वजह से उन्हें मौका दिया। ओवर रेट संतुलित करने के दौरान वे हमारे लिए अहम साबित होते। हमने इस मैच में कुछ मौकों पर वापसी की जो निर्णायक साबित हुई।

विराट ने गेंदबाजों की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा- इस जीत में गेंदबाजों की अहम भूमिका रही। बुमराह, ईशांत और शमी ने बेहतरीन गेंदबाजी की। बुमराह पर पड़ने वाले दबाव के बारे में विराट ने कहा- ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद हम बुमराह को लगातार आराम देने की कोशिश कर रहे हैं। ये सच है कि उनपर काफी ज्यादा दबाव है, लेकिन वे टीम के लिए जबर्दस्त प्रदर्शन कर रहे हैं। मैं उम्मीद कर रहा हूं कि वो हमारे लिए पूरी आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के दौरान ऐसा ही शानदार प्रदर्शन करेंगे।

Facebook Comments