पाकिस्तानी ISI हसीनाओं के झांसे में फंसा रीवा निवासी Indian Army का जवान, जोधपुर रेलवे स्टेशन में पकड़ाया गया 1

पाकिस्तानी ISI हसीनाओं के झांसे में फंसा रीवा निवासी Indian Army का जवान, जोधपुर रेलवे स्टेशन में पकड़ाया गया

National Crime Madhya Pradesh Rewa

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई भारतीय जवानों को ट्रैप करने के लिए आए दिन नए-नए हथकंडे अपनाती है। अब सबसे आसान हथकंडा हसीन सुंदरियां हैं, जो अपनी अपनी हुस्न की नुमाइंदगी से भारतीय जवानों को फंसाती हैं। यंग जवानों को पर सोशल मीडिया के जरिए पाकिस्तानी सुंदरियां डेरा डालती हैंं। फिर अंतरंग बातें कर उन्हें ट्रैप करती हैं। उसके बाद उनसे करवाना शुरू कर देती हैं अपना काम।

पांच नवंबर को राजस्थान सीआईडी की टीम ने जोधपुर रेलवे स्टेशन से भारतीय सेना के दो जवानों को हिरासत में लिया है। जिसमें एक को गिरफ्तार किया गया है। जिनके संबंध पाकिस्तानी सुंदरियों से थे। ये दोनों जवान उनके हुस्न के जाल में ऐसे फंस गए थे कि भारतीय सेना की खुफिया जानकारी शेयर करने लगे थे। हिरासत में लिए गए जवानों में एक मध्यप्रदेश के रीवा का रहने वाला है। जैसलमेर के पोकरण में भारतीय सेना की यूनिट में लांस नायक के तौर पर पदस्थापित है। जवान का नाम रवि वर्मा है। जिससे अभी पूछताछ जारी है।

सीआईडी तीन दिन से कर रही पूछताछ
24 वर्षीय लांस नायक रवि वर्मा छुट्टी लेकर रीवा स्थित घर आ रहा था। सीआईडी के रडार पर ये रवि और उसका साथी पहले से ही रडार पर था। डेढ़ साल से रवि वर्मा लगातार महत्वपूर्ण सामरिक जानकारियां उन हसीनाओं के साथ शेयर कर रहा था। यानी की पाकिस्तान को। रवि की तैनाती पोकरण में थी और पोकरण में सेना का युद्धाभ्यास चल रहा है। जोधपुर से गिरफ्तार कर दोनों जवानों को राजस्थान सीआईडी की टीम पोकरण लेकर चली गई थी।

सोशल साइट्स के जरिए दोस्ती
अभी तक पूछताछ में जो जानकारी सामने आई है, उसके अनुसार रवि वर्मा और उसके साथी की पाकिस्तानी लड़कियों से दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी। राजस्थान इंटेलिजेंस के अतिरिक्त महानिदेशक उमेश मिश्रा ने कहा कि राज्य की गुप्तचर एजेंसियों ने पुख्ता सूचना और पड़ताल के बाद दोनों जवानों को हिरासत में लिया है। प्रारंभिक तौर पर हनीट्रैप का मामला सामने आया है। हालांकि रवि वर्मा की भूमिका की अभी पड़ताल की जा रही है। लेकिन उसका साथ विचित्र बेहरा ने कबूल किया है कि वह पाकिस्तानी सुंदरियों के संपर्क में था।

राजस्थान इंटेलिजेंस के थे रडार पर
विचित्र और रवि वर्मा महीनों से इंटेलिजेंस के रडार पर था। लेकिन आर्मी क्षेत्र में कार्रवाई से पहले सेना को इसकी जानकारी देनी पड़ती जिससे लंबा वक्त लगता। इसलिए राजस्थान इंटेलिजेंस दोनों जवानों को बाहर निकलने का इंतजार कर रही थी। जैसे ही दोनों घर जाने के लिए जोधपुर रेलवे स्टेशन पहुंचे उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

नर्स पर लट्टू हुए जवान
रवि वर्मा से पूछताछ में यह भी जानकारी मिली है कि ये हसीनाएं और भी जवानों के संपर्क में थीं। विचित्र को भी इंटेलिजेंस ने रिमांड पर लिखा है। जवानों ने बताया कि पाकिस्तानी महिला जासूस ने भारतीय सेना में नर्स बताकर हमें फंसाया था। वह खुद को भारतीय सेना में ही पदस्थ होना बताती थी। अभी इंटेलिजेंस के अधिकारी यह तय नहीं कर पाए हैं कि विचित्र के साथ पकड़े गए रवि वर्मा को गवाह बनाया जाए या फिर उसकी भूमिका होने पर गिरफ्तार किया जाए। अभी उससे पूछताछ जारी है।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •