MP Deputy Speaker : मध्य प्रदेश में विधानसभा उपाध्यक्ष पद के लिए शक्ति प्रदर्शन आज1 min read

Assembly Election 2018 Bhopal Madhya Pradesh

भोपाल। पंद्रहवीं विधानसभा में परंपराओं के टूटने का क्रम उपाध्यक्ष पद के चुनाव में जारी रहने की परिस्थितियां बन रही हैं। विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव से कांग्रेस और भाजपा के बीच पैदा हुई कड़वाहट सदन में दूसरे दिन भले ही नजर नहीं आई हो, लेकिन उपाध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस की हिना कांवरे और भाजपा के जगदीश देवड़ा के नामांकन दाखिल करने से दूरियों का अंदाज लगाया जा सकता है। गुरुवार को उपाध्यक्ष चुनाव के लिए सदन में मत विभाजन भी हो सकता है।

उपाध्यक्ष पद के लिए हिना की सूचनाएं पहले जमा हुईं, जबकि करीब पौने 12 बजे देवड़ा की सूचना जमा की गई। कांवरे के चार में से एक सेट में एक सपा विधायक राजेश शुक्ला और बसपा के संजीव सिंह कुशवाह ने प्रस्तावकसमर्थक के रूप में नाम शामिल किया। देवड़ा के फॉर्म में प्रस्तावक गोपाल भार्गव का नाम था तो समर्थक डॉ. सीतासरन शर्मा रहे।

भाजपा का विधायकों को निर्देश
अध्यक्ष के एकतरफा निर्वाचन के बाद अब उपाध्यक्ष पद के लिए भी मतदान हो सकता है। उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी जगदीश देवड़ा को जिताने के लिए भाजपा ने चाक-चौबंद व्यवस्था की है। पार्टी ने सभी संभाग प्रभारियों से कहा कि वे विधायकों की मौजूदगी सुनिश्चित करें। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि हमारा संख्या बल 109 से कम नहीं होना चाहिए।

परंपरा भाजपा ने तोड़ी
उपाध्यक्ष के लिए हिना कांवरे को प्रत्याशी बनाया है। विस अध्यक्ष के लिए प्रत्याशी खड़ा करके भाजपा ने परंपरा तोड़ने की शुरूआत की थी। – कमलनाथ, मुख्यमंत्री

परंपरा का निर्वहन नहीं किया
सत्ता पक्ष ने परंपरा का निर्वहन नहीं किया। सत्र प्रारंभ होते ही अलोकतांत्रिक काम किया। इसलिए हमने फॉर्म भरा। कल जो रिजल्ट आएगा वो ठीक होगा। – जगदीश देवड़ा, विस उपाध्यक्ष प्रत्याशी

Facebook Comments