बात नहीं की तो छात्रा को कॉलेज की छत पर ले गया छात्र, गले में किया ताबड़तोड़ वार, खुद को भी चाकू मारकर छत से कूदा : crime news

क्राइम

बुरहानपुर. प्रेम प्रसंग में छात्रा द्वारा बात बंद कर देना प्रेमी छात्र को इतना नागवार गुजरा कि वह उसे कॉलेज की छत पर ले गया और चाकू मारकर गंभीर घायल कर दिया। इसके बाद छात्र ने खुद के गले पर भी चाकू से वार किए और कॉलेज की दूसरी मंजिल से कूद गया। छात्रा को गले पर गहरे घाव लगे हैं। छात्र भी बुरी तरह जख्मी हुआ है। छत से कूदने के कारण उसके दोनों पैर और पसली में फ्रैक्चर हुआ है। घटना शहर के सेवासदन कॉलेज में गुरुवार की है।

प्रतापपुरा निवासी छात्र गणेश पिता पांडुरंग ढोरे और मूलत: खरगोन की निवासी छात्रा को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। गणेश के परिजन ने बताया दोनों के बीच पिछले चार साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। गणेश ने यह कदम क्यों उठाया इस बारे में किसी को कुछ नहीं पता। कॉलेज के विद्यार्थियों से पता चला छात्रा पिछले कुछ समय से गणेश से बात नहीं कर रही थी। वह कॉलेज भी नहीं आ रही थी। गुरुवार को वह प्रैक्टिकल फाइल जमा करने के लिए काॅलेज आई थी। तभी गणेश उसे छत पर ले गया। यहां दोनों के बीच विवाद होने पर गणेश ने उस पर चाकू से हमला कर घायल कर दिया। इसके बाद खुद के गले पर चाकू मारे और छत से कूद गया।

छात्रा बोली… प्रैक्टिकल के लिए कॉलेज आई तो मुझे छत पर ले गया
अस्पताल में कोतवाली पुलिस ने छात्रा के बयान लिए। प्रेम प्रसंग के बारे में पूछने पर उसने साफ इनकार कर दिया। छात्रा ने कहा हम दोनों अच्छे दोस्त थे। गणेश कुछ दिनों से बात करने के लिए परेशान कर रहा था। मैंने बात करने से मना किया था। प्रैक्टिकल के लिए कॉलेज आई तो वह बात करने के बहाने मुझे छत पर ले गया। मुझे नहीं पता था वह हमला कर देगा। छात्रा के बयान के आधार पर कोतवाली पुलिस ने गणेश के खिलाफ धारा 307 के तहत हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार ऐसे हुई पूरी घटना
गुरुवार बीकॉम. तृतीय वर्ष का प्रैक्टिकल था। प्रैक्टिकल फाइल जमा करने के बाद छात्रा जैसे ही बाहर निकली, गणेश ने उसे रोका और बात करने के बहाने छत पर ले गया। 15 मिनट बाद छात्रा के चीखने की आवाज आई। विद्यार्थी बाहर आए तो देखा छात्रा और गणेश छत पर थे। गणेश ने चाकू से छात्रा पर हमला किया। उसने हाथ आगे किए तो उस पर भी चोट आई। छात्रा को घायल करने के बाद गणेश ने खुद पर भी चार से ज्यादा वार किए और करीब 60 फीट ऊंची छत से छलांग लगा दी।

10वीं से लेकर तीन साल कॉलेज में भी साथ
गणेश व छात्रा कक्षा 10वीं से एक साथ पढ़ाई कर रहे हैं। कॉलेज के साथियों ने बताया स्कूल में दोनों एक ही कक्षा में थे। फिर कॉलेज में भी एक साथ प्रवेश लिया। दोनों के बीच दोस्ती से कुछ ज्यादा ही था। लेकिन पिछले कुछ दिनों से छात्रा गणेश से बात नहीं कर रही थी। इससे गणेश परेशान था। फोन पर भी दोनों की बात नहीं हो रही थी। बात बंद होने का कारण गणेश ने कभी नहीं बताया था।

गणेश के गले पर चार से ज्यादा घाव, एक पौने दो इंच तक गहरा
खूद को चाकू मारने और छत से कूदने के कारण गणेश गंभीर रूप से घायल हुआ है। इलाज के दौरान उसे पूरे समय ऑक्सीजन पर रखा गया। उसके गले पर चार से ज्यादा घाव हैं। एक घाव पौने दो इंच तक गहरा है। दोनों पैर और पसली में फ्रैक्चर हुआ है। हालत गंभीर होने के कारण परिजन इलाज के लिए उसे फैजपुर ले गए हैं। छात्रा को गले में तीन घाव हैं। दोनों हाथों पर भी जख्म हैं।

किसी को यकीन नहीं हुआ गणेश ने ऐसा किया
गणेश के रहवासी क्षेत्र प्रतापुरा के लोगों के अनुसार गणेश सरल व शांत स्वभाव का है। घटना के बारे में जब परिवार और मोहल्ले वालों को पता चला तो किसी को इस बात पर यकीन नहीं किया गणेश ने ऐसा किया है। वह नियमित कॉलेज जाता था। कॉलेज से घर जाने के बाद आईस्क्रीम की दुकान पर काम करने के लिए निकल जाता था। मोहल्ले में उसका सभी से व्यवहार अच्छा था। कभी किसी से विवाद नहीं करता था।

कॉलेज की लापरवाही, घायलों को नहीं ले गए अस्पताल
घटना में कॉलेज प्रबंधन की लापरवाही भी सामने आई है। कॉलेज की छत पर चाकूबाजी होने व गणेश के छत से कूदने पर भी प्रबंधन ने दोनों को अस्पताल नहीं पहुंचाया। मौके पर पहुंची 100 डायल से दोनों को अस्पताल ले जाया गया।

Facebook Comments