रायपुर : ​​​​​​​गांव, गरीब और किसानों को समर्पित है अटल दृष्टि पत्र: डॉ. रमन सिंह1 min read

Chhattisgarh

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि गांव, गरीब और किसानों की बेहतरी के लिए और एक विकसित छत्तीसगढ़ के निर्माण के लिए राज्य सरकार ने अटल दृष्टि पत्र बनाया है। मुख्यमंत्री आज शाम प्रदेशव्यापी विकास यात्रा के दौरान जिला मुख्यालय बलौदाबाजार के दशहरा मैदान में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे।
डॉ. सिंह ने कहा – छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माता और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों के अनुरूप वर्ष 2025 तक स्मार्ट, स्वस्थ और समृद्ध छत्तीसगढ़ बनाने का संकल्प हमने अटल दृष्टि पत्र में लिया है। छत्तीसगढ़ 2025 में अपनी रजत जयंती मनाएगा। उस समय तक राज्य के हर गांव में बिजली, हर घर में इंटरनेट, हर व्यक्ति को पीने के लिए स्वच्छ पानी, हर शहर और गांव में अच्छी सड़कों की सुविधाओं का विस्तार होगा। प्रधानमंत्री के लक्ष्य के अनुरूप किसानों की आमदनी वर्ष 2022 तक दोगुनी हो जाएगी। राज्य सरकार जनता के सहयोग से ‘नवा छत्तीसगढ़’ बनाने की दिशा में लगातार काम कर रही है। उन्होंने इस मौके पर जिले की जनता को लगभग 964 करोड़ रूपए के 79 विभिन्न निर्माण कार्यों की सौगात दी। उन्होंने इनका लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास किया। इसके साथ ही उन्होंने विभिन्न विभागों की योजनाओं के तहत एक लाख 52 हजार 400 हितग्राहियों को अनुदान सामग्री और चेक आदि के वितरण कार्य का भी शुभारंभ किया। डॉ. सिंह ने प्रतीक स्वरूप कई हितग्राहियों को सामग्री और चेक भेंट कर शुभकामनाएं दी। उन्होंने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन, राज्य सरकार की ओर से तेन्दूपत्ता श्रमिकों को चरण पादुका और बोनस और संचार क्रांति योजना के तहत स्मार्ट फोन का भी वितरण किया। कई बिजली उपभोक्ताओं को उन्होंने सहज बिजली बिल योजना के तहत फ्लैट रेट के विकल्प का प्रमाण पत्र भी दिया।
डॉ. रमन सिंह ने कहा – लगभग छह साल पहले निर्मित नये बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के विकास के लिए आज का दिन मील का पत्थर साबित हुआ है, जब यहां पर एक साथ इतनी बड़ी राशि के निर्माण कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन हुआ। डॉ. सिंह ने कहा – इनमें से एक दिन में 513 करोड़ के 57 कार्यों का शिलान्यास और 450 करोड़ के 22 कार्यों का लोकार्पण भी जिले के लिए एक नया कीर्तिमान है। मुख्यमंत्री ने आमसभा में उन्होंने कहा – छत्तीसगढ़ के इतिहास में बलौदाबार-भाटापारा जिले का महत्वपूर्ण स्थान हैं। इस जिले के गिरौदपुरी में महान समाज सुधारक और सतनाम पंथ के प्रवर्तक गुरू बाबा घासीदास की जन्म भूमि और तपोभूमि है। सन 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के महान सेनानी सोनाखान के अमर शहीद वीर नारायण सिंह की यह कर्मभूमि है। मुख्यमंत्री ने कहा – प्रदेशव्यापी अटल विकास यात्रा में आज बारिश के बावजूद जनता ने जिस उत्साह के साथ स्वागत किया और भारी संख्या में अपनी उपस्थिति दिखायी, वह राज्य सरकार की नीतियों और योजनाओं के प्रति उसके सहयोग और समर्थन का परिचायक है। मुख्यमंत्री ने कहा – जिला निर्माण के बाद बलौदाबाजार के पूरे इलाके में अच्छी और चमचमाती सड़कों का जाल बिछाया गया है। राज्य सरकार ने आमजनता के जीवन में परिवर्तन के लिए कार्य योजना बनाकर कई योजनाओं की शुरूआत की है।

डॉ. रमन सिंह ने आमसभा में प्रदेश के किसानों की ओर से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि मोदी जी ने धान के समर्थन मूल्य में प्रति क्विंटल 200 रूपए की वृद्धि करके किसानों की मेहनत का सम्मान किया है। इससे अब किसानों को कॉमन धान पर 1750 रूपए और ए-ग्रेड धान पर 1770 रूपए का समर्थन मूल्य मिलेगा। इसके साथ ही राज्य सरकार ने उन्हें प्रति क्विंटल 300 रूपए बोनस भी देने का निर्णय लिया है, जो धान बेचते ही उनके खाते में धान की कीमत के साथ जमा हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर केन्द्र और राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत बलौदाबाजार जिले में हो रही प्रगति का भी योजनावार उल्लेख किया। आमसभा को लोकसभा सांसद श्री रमेश बैस और विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में खाद्य मंत्री श्री पुन्नूलाल मोहले, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, जांजगीर की लोकसभा सांसद श्रीमती कमला देवी पाटले, अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और बिलाईगढ़ के विधायक डॉ. सनम जांगड़े तथा खनिज विकास निगम के अध्यक्ष और भाटापारा के विधायक श्री शिवरतन शर्मा सहित अनेक वरिष्ठजन भी मौजूद थे।

Facebook Comments