ट्रैक्टर एजेंसी को लेकर हुई हत्या का पुलिस ने किया पर्दाफाश, कट्टा, कारतूस सहित दो आरोपी गिरफ्तार

ट्रैक्टर एजेंसी को लेकर हुई हत्या का पुलिस ने किया पर्दाफाश, कट्टा, कारतूस सहित दो आरोपी गिरफ्तार

रीवा

ट्रैक्टर एजेंसी को लेकर हुई हत्या का पुलिस ने किया पर्दाफाश, कट्टा, कारतूस सहित दो आरोपी गिरफ्तार

रीवा। बीते दिनों बड़ागांव निवासी मुन्नालाल पटेल हत्या मामले का पुलिस ने आज कन्ट्रोल रूम में खुलासा किया। हत्या में शामिल दो आरोपियो को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया। साथ में हत्या में उपयोग की गई गाड़ी एवं कट्टा को भी बरामद कर जप्त कर लिया गया है। घटना के संबंध में खुलासा करते हुए एएसपी शिवकुमार वर्मा ने बताया कि 13 सितंबर को मुन्नाा लाल पटेल पुत्र हीरालाल पटेल 45 वर्ष निवासी बडागांव की गोली मारकर हत्या की गई थी।

रीवा : सुपर स्पेशलियटी हाॅस्पिटल का प्रशासन ने हटाया अतिक्रमण, व्यवसाईयों ने किया विरोध, 30 सितम्बर को सीएम करेंगे अस्पताल का शुभारंभ

जब मामले की जांच शुरू हुई तो परिजनों ने बताया कि मुन्नाा लाल पटेल का परिवार के ही अनुराग सिंह पटेल ,रत्नेश सिंह इत्यादि से पिछले 2 दिनों से विवाद चल रहा था। इस दो लोगों के नाम सामने आने के अलावा भी कई संदेहियों से पूछताछ के लिए पुलिस ने तलब किया। लेकिन कुछ खास सफलता प्राप्त नहीं हो सकी। मामले की तह तक जाने के लिए पुलिस द्वारा सीसीटीवी फुटेज और कॉल डिटेल के माध्यम से सभी संदेहियो की जानकारी ली गई। इसी दरम्यान एक सीसीटीवी में एक कार मृतक के पीछे की ओर जाती हुई दिखी।

22 सितंबर को ऑनलाइन माध्यम से किसानों को जोड़ा जाएगा, साथ ही 800 करोड़ रुपये शून्य ब्याज पर दिया जाएगा ऋण

जब उक्त कार के बारे में पुलिस द्वारा जानकारी एकत्र की गई तो पता चला कि मुन्नाा लाल पटेल को प्रभाकर सिंह और विजय तिवारी ने मिलने के लिए बुलाया था। जहां से मुन्नालाल को नारी बारी,चाकघाट ले जाया गया। चाकघाट से लौटकर मुन्नालाल पटेल प्रताप ढाबे से अपनी बाइक लेकर घर के लिए निकला। कार सवार दोनों आरोपी उसका पीछा कर रहे थे। जब मुन्नालाल पटेल सुनसान जगह पर पहुंचा तो कार सवारों ने उसे गोली मारकर मौके से फरार हो गए।

हत्या की यह थी वजह

इस हत्या के पीछे मुख्य वजह ट्रैक्टर एजेंसी का विवाद था। मुन्नालाल ट्रैक्टर एजेंसी किसी अन्य को दिलाना चाह रहा था और प्रभाकर सिंह ने खेत बेचकर इस एजेंसी को ले रखा था। इसी विवाद के चलते पिछले एक माह से उसकी हत्या की रणनीति बना रहे बनाई जा रही थी। पारिवारिक विवाद का पता चला तो मौके का फायदा उठाते हुए आरोपियों द्वारा मुन्नाा लाल पटेल को गोली मारकर हत्या कर दी।

ये हुए गिरफतार

उक्त घटना को अंजाम देने वालों में प्रभाकर सिंह उर्फ लल्ला पुत्र जगदीश सिंह 27 वर्ष निवासी मटयारी थाना चाकघाट एवं विजय तिवारी पुत्र प्रेमनारायण तिवारी 28 वर्ष निवासी कोनीखुर्द थाना चाकघाट शामिल है। घटना में उपयोग की गई एक 315 बोर का देशी कट्टा, दो खाली खोखे और दो भरे कारतूस, एक सफेद रंग की मारुति पुलिस ने बरामद कर ली है। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी सोहागी पवन शुक्ला, सब इंस्पेक्टर अभिषेक सिंह पटेल, बृजेंद्र जैसवाल, राहुल कुमार ,अजय सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

5 साल पाकिस्तान की जेल में रहने बाद अपनी सरजमीं पर पहुंचा अनिल, लोगों ने किया स्वागत

युवाओं को PMEGP ऋण आवंटन न करने पर बैंक शाखा प्रबंधकों पर नाराज हुए कलेक्टर इलैयाराजा टी

रीवा : 42 करोड़ का है लक्ष्य, अधिकारी-कर्मचारियों की बढ़ी मुसीबत

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: FacebookTwitterWhatsAppTelegramGoogle NewsInstagram