पुलिस ने चलता-फिरता पेट्रोल पंप पकड़ा, 2.50 लाख कीमती डीजल-पेट्रोल जब्त : REWA NEWS

पुलिस ने चलता-फिरता पेट्रोल पंप पकड़ा, 2.50 लाख कीमती डीजल-पेट्रोल जब्त : REWA NEWS

मध्यप्रदेश रीवा

रीवा (REWA NEWS) । बार्डर क्षेत्र में अवैध डीजल-पेट्रोल का कारोबार खूब फल-फूल रहा है। वह चाहे चाकघाट बार्डर हो अथवा हनुमना, दोनों जगह अवैध कारोबार काफी तेजी से चल रहा है। इसी के मद्देनजर हनुमना थाना ने कार्रवाई करते हुए अवैध रूप से चलता-फिरता पेट्रोल पंप पकड़ा है।

जहां पुलिस ने भारी मात्रा में अवैध डीजल-पेट्रोल जब्त किया। वहीं एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। जिससे पूछताछ की जा रही है। जब्त पेट्रोल-डीजल की कीमत लगभग 2.50 लाख रुपये के आसपास बताई गई है। बताया गया है कि उक्त अवैध पेट्रोल-डीजल उत्तरप्रदेश से लाकर मध्यप्रदेश में बिक्री किया जाता है।

अब गौ पालकों को सरकार देगी पैसा, देशी गायों का बढेगा सम्मान : MP NEWS

हालांकि यह कारोबार कोई नया नहीं है बल्कि काफी समय से चल रहा है और अच्छा मुनाफा कमाया जाता है। बताया गया है कि मध्यप्रदेश की अपेक्षा उत्तरप्रदेश में मिलने वाला डीजल-पेट्रोल सस्ता है, यही कारण है कि अवैध कारोबार उत्तरप्रदेश से डीजल-पेट्रोल खरीदकर मध्यप्रदेश में सप्लाई करते हैं और लंबा मुनाफा कमाते हैं।

पुलिस ने चलता-फिरता पेट्रोल पंप पकड़ा, 2.50 लाख कीमती डीजल-पेट्रोल जब्त : REWA NEWS

लंबे समय से चल रहा धंधा

बार्डर में अवैध डीजल-पेट्रोल की बिक्री का मामला कोई नया नहीं है। यह कारोबार लंबे समय से खूब चल रहा है। सिर्फ पुलिस की कार्रवाई जरूर नई है। यह कारोबार चाकघाट और हनुमना बार्डर दोनों जगह खूब चलता है। जिम्मेदार सब जानते हुए भी नजर अंदाज करते रहते हैं। उत्तरप्रदेश से लाकर कारोबारी खुला डीजल-पेट्रोल स्टाक करके रखते हैं और खुलेआम बिक्री करते हैं। खुला पेट्रोल की वजह कई बार दुर्घटनाएं भी हो चुकी हैं इसके बावजूद भी न तो पुलिस कड़े कदम उठा रही है और कारोबारी मानने को तैयार हैं।

पांचवें दिन जारी रही डिग्री काॅलेज के अतिथि विद्वानों की हड़ताल : SATNA NEWS

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *