रीवा: कोरोना ने दिया ऐसा दर्द की फूड कंट्रोलर सहित कल हुई तीन की मौत, प्लाज्मा थेरैपी भी नहीं आई काम...

छत्तीसगढ़ के होम्योपैथी चिकित्सक को क्लीनिकल ट्रायल की अनुमति

अम्बिकापुर छत्तीसगढ़ बिलासपुर रायपुर

छत्तीसगढ़ के होम्योपैथी चिकित्सक को क्लीनिकल ट्रायल की अनुमति

Coronavirus Chhattisgarh News : छत्तीसगढ़ में अंबिकापुर शहर के होम्योपैथी चिकित्सक डॉ. धीरेंद्र तिवारी को इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर ) से संबद्ध क्लीनिकल ट्रायल्स रजिस्ट्री ऑफ इंडिया (सीटीआरआइ) ने कोविड-19 के इलाज के लिए क्लीनिकल ट्रायल की अनुमति दी है। वे छतीसगढ़ के पहले होम्योपैथी चिकित्सक है, जिन्हें यह मौका दिया गया है।

BIG NEWS: MP के 27 जिलों में संविदा कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त, मचा हड़कंप

डॉ. तिवारी अब एलोपैथी चिकित्सकों के साथ समन्वय बनाकर कोविड-19 के पॉजिटिव मरीजों के उपचार और संदिग्धों के इस बीमारी से बचाव और रोकथाम के लिए होम्योपैथी की दवा का इस्तेमाल करेंगे। तीन महीने के बाद वे रिसर्च रिपोर्ट आइसीएमआर को प्रस्तुत करेंगे।

इस रिपोर्ट में कोविड-19 के पॉजिटिव और सामान्य लोगों को इस बीमारी से बचाव के लिए होम्योपैथी की दवा के इस्तेमाल से हुए फायदे का उल्लेख करेंगे। इससे होम्योपैथी को भी इस बीमारी के इलाज और बचाव के लिए प्रमाणिकता मिल सकेगी।

हज़ारों श्रमिकों को लेकर Pune से Rewa के लिए रवाना हुई Shramik Special Train

डॉ. धीरेंद्र तिवारी ने बताया कि होम्योपैथी दवा से कोविड-19 के इलाज के लिए क्लीनिकल ट्रायल के लिए देश भर में कुल छह होम्योपैथी चिकित्सक या संस्थान को ही अब तक यह अनुमति प्रदान की गई है।

[signoff]