2020/Chief Minister Yogi Adityanath.jpg

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस फैसले से हिल गया पूरा उत्तर प्रदेश, कहा-अगर बेटा माँ-बाप की सेवा नहीं करता तो कर दे शुरू नहीं तो...

RewaRiyasat.Com
Shashank Dwivedi
03 Apr 2021

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस फैसले से हिल गया पूरा उत्तर प्रदेश, कहा-अगर बेटा माँ-बाप की सेवा नहीं करता तो कर दे शुरू नहीं तो...

लखनऊ (Lucknow) : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) हमेशा कड़े फैसले लेने के लिए जाने जाते है. योगी आदित्यनाथ ने जब से उत्तर प्रदेश की सत्ता संभाली है. तब से वहां दंगा फसाद, अपराध, रंगदारी की घटनाएं कम होने लगी है. योगी आदित्यनाथ के आने के बाद सभी बड़े गुंडों ने अपना ठिकाना बदल दिया या मारे गए. इस तरह एक बार फिर आदित्यनाथ ने बुजुर्ग माँ-बाप के लिए एक नियम बनाने जा रही है. 

ये है नियम 

जानकारी के मुताबिक अक्सर देखा जाता है की जब माँ-बाप बुजुर्ग होते है तो उन्हें बेटा संपत्ति से बेदखल कर देता है. या उनका भरण-पोषण करने में आनाकानी करता है. ऐसे में कई माँ-बाप या तो बृद्धा आश्रम चले जाते है. या खुद की जान देकर अपनी लीला समाप्त कर लेते है. 

रोहतक / मुख्यमंत्री पर भारी पड़ा किसानों का विरोध, नहीं उतरने दिया सीएम का हेलीकाप्टर...

प्रॉपर्टी से होगा बेदखल 

योगी सरकार का कहना है की ऐसे माँ-बाप जिनके साथ बेटा जबरजस्ती या आनाकानी करेगा और उसकी शिकायत माँ-बाप करते है तो उसकी सारी प्रॉपर्टी सरकार के नाम हो जाएगी। यही नहीं सम्पति का ब्यौरा और दानपत्र भी निरस्त कर दिया जायेगा। सरकार को आयोग ने अपना प्रस्ताव भेज दिया है. अब जल्द ही इसे लागू करने की योगी सरकार योजना बना रही है. 

बनेगा कानून 

बताया जाता है की सन 2014 में नियमावली बना दी गई थी. बस इसे पास नहीं कराया गया था. साथ में सरकार ने ये भी कहा की अब कोई भी बुजुर्ग माँ-बाप के साथ अगर बेटा गलत करेगा तो उसे बख्शा नहीं जायेगा। उत्तर प्रदेश माता-पिता और सीनियर सिटिजन के भरण पोषण एवं कल्याण नियमावली 2014' (Uttar Pradesh Maintenance and Welfare of Parents and Senior Citizens Rules, 2014) योगी सरकार जल्द ही अध्यादेश लाकर इसे पास कराने की तैयारी कर ली है. ऐसे में योगी सरकार का कहना है की अगर अपने माँ-बाप की सेवा नहीं करते हो तो करना शुरू कर दो. 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER