टेक और गैजेट्स

BIG NEWS: Bank Account Balance चेक करने में हर बार लगेगा 5 रूपए, पढ़िए

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:21 AM GMT
BIG NEWS: Bank Account Balance चेक करने में हर बार लगेगा 5 रूपए, पढ़िए
x
BIG NEWS: Bank Account Balance चेक करने में हर बार लगेगा 5 रूपए, पढ़िएकोरोना वायरस और लॉकडाइन का हालात का सामना करने के लिए केंद्र और राज्य

BIG NEWS: Bank Account Balance चेक करने में हर बार लगेगा 5 रूपए, पढ़िए

कोरोना वायरस और लॉकडाइन का हालात का सामना करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों ने गरीबों के खातों में राशि जमा की है। इस पहल से करोड़ों गरीबों को लाभ पहुंचा है, लेकिन अब एक समस्या भी खड़ी हो गई है। दरअसल, ये लोग हर रोज इतनी बड़ी मात्रा में Bank Account Balance जांचने की सेवा का उपयोग कर रहे हैं कि बैंकों के सर्वेर ठप्प पड़ रहे हैं।

इसके बाद बैंकों और पेमेंट ऑपरेटर्स का कहना है कि Account Balance चेक करने के रोज इतने मामले सामने आ रहे हैं कि डिजिटल सिस्टम फेल हो रहा है। ऐसे में कॉमन सर्विंस सेंटर (सीएससी) ने नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) से Bank Account Balance के हर आग्रह के बदले पांच रुपए शुल्क लेने की सिफारिश की है। हालांकि उम्मीद कम ही है कि सरकार या आरबीआई इस पर विचार करे।

मध्यप्रदेश: Green Zone में सामान्य गतिविधियों को शुरू करने के आदेश, जानिए Orange और Red Zone का क्या होगा…

बीते डेढ़ महीने में बड़े बैंलेंस चेक करने के मामले

जानकारी के अनुसार, बीते करीब डेढ़ महीने से लागू लॉकडाउन के कारण मजदूरों और कामगारों को सबसे ज्यादा वित्तीय संकट का समाना करना पड़ है। सरकारें लगातार कोशिश कर रही हैं कि उनकी आर्थिक समस्याएं कम हों। इसलिए केंद्र और राज्य सरकारें विभिन्न योजनाओं के माध्यम से उनके बैंक अकाउंट्स में कुछ न कुछ राशि जमा कर रही है। यह राशि उनके आधार से लिंक खाते में डाले जा रहे हैं।

मध्यप्रदेश में इस तारीख तक नहीं खुलेंगी शराब की दुकानें, सीएम शिवराज का फैंसला

हर रोज उत्सुकता, पैसे आए क्या

मजदूरों और कामगारों में यह जानने के लिए रोज उत्सुकता रहती है कि कहीं सरकार ने उनके खाते में और पैसे डाले? यही कारण है कि वे रोज-रोज बैलेंस चेक कर रहे हैं। इसका असर दूसरी सेवाओं पर पड़ रहा है। 100 में से 45 मामलों में ट्रांजेक्शन फेल हो रहे हैं। अधिकांश मामलों में खाते से रकम कट रही है और बैंक को उसे दोबारा जमा करना पड़ रहा है। हालांकि जानकारों का मानना है कि लॉकडाउन का संकट काल गुजरने के बाद हालात सामान्य हो जाएंगे।

Next Story
Share it