2020/corona_infection.jpg

SIDHI: स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही उजागर, डीसीएसएचसी से भागी कोरोना पॉजिटिव महिला

RewaRiyasat.Com
Shashank Dwivedi
05 Apr 2021

SIDHI: स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही उजागर, डीसीएसएचसी से भागी कोरोना पॉजिटिव महिला

सीधी (SIDHI)। बीते दिनों रामपुर नैकिन फीवर क्लीनिक में फर्जी कोरोना रिपोर्ट फार्मासिस्ट के द्वारा बनाई गई थी जिसका मामला अभी थमा भी नहीं था कि स्वास्थ्य विभाग की यह दूसरी बड़ी लापरवाही सामने आई है जहां डीसीएससी में भर्ती कोविड पॉजीटिव महिला अस्पताल से फरार हो गई है जहां कोरोना का खतरा और बढ़ गया है।

स्वास्थ विभाग की लापरवाही

कोरोना महामारी जैसे खतरनाक वायरस को रोकने के लिए प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक नई-नई गाइडलाइन जारी करते हैं लेकिन सीधी में उनका निर्देश हवा हवाई है। इसकी बड़ी बानगी बीते शनिवार के शाम 7:30 बजे देखने को मिली जहां स्वास्थ विभाग की लापरवाही के कारण कोरोना पाजटिव महिला अस्पताल से फरार हो गई है जहां हड़कंप मच गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से मिलीं सांसद रीति, क्षेत्र में खुलेंगे हेल्थ वेलनेस सेंटर : SIDHI NEWS

बीते शानिवार को इरौआ रजक पति हिंचलाल रजक उम्र 36 साल निवासी कोल्हुडीह कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी जहाँ डीसीएचसी में भर्ती किया गया था बताया गया कि भर्ती के दौरान स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा संवेदनशीलता के साथ काम नहीं करने के कारण काफी देर तक महिला अकेली बिना दवा के ही भटक रही थी जिसके बाद वाह बाहर निकल कर चुपचाप गायब हो गई।

बताया गया कि ड्यूटी डॉक्टर की भी बड़ी लापरवाही सामने आई है कोरोना जैसे खतरनाक वायरस से लड़ रही महिला की ना ही सही ढंग से देख रेख की गई है नहीं सही टाइम पर उपचार किया गया है नतीजा यह निकला कि उक्त महिला फरार हो गई।

बड़ी लापरवाही आई सामने

उक्त कोरोना पॉजिटिव महिला पेशेंट के भागने से स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खुल गई है वही ड्यूटी डॉक्टर नितिन सिंह एवं डीसीएससी इंचार्ज की भी लापरवाही सामने आई है। उल्लेखनीय है कि राजनीतिक संरक्षण प्राप्त स्वास्थ्य कर्मियों पर कार्रवाई नहीं होने से हौसले बुलंद हो जाते हैं और लापरवाही में कोई सुधार नहीं होती है जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ता है देखना होगा कि इस मामले पर दोषी स्वास्थ्य कर्मियों पर क्या  कार्रवाई की जाएगी।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER