राष्ट्रीय

Gratuity नियमों में बदलाव करने जा रही है सरकार, करोड़ों प्राइवेट और सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा फायदा

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:22 AM GMT
Gratuity नियमों में बदलाव करने जा रही है सरकार, करोड़ों प्राइवेट और सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा फायदा
x
सरकार Gratuity के नियमों में बदलाव करने का विचार कर रही है। अब तक जो Gratuity 5 साल पूरे होने पर मिलती थी, वह 1 साल बाद ही लागू हो सकती है।
नई दिल्ली। सरकार Gratuity के नियमों में बदलाव करने का विचार कर रही है। अब तक जो Gratuity 5 साल पूरे होने पर मिलती थी, वह 1 साल बाद ही लागू हो सकती है। हालांकि सरकार को इस नियम में बदलाव के लिए संसद सत्र का इंतजार करना होगा। अगर ऐसा होता है तो इसका फायदा करोड़ों प्राइवेट और सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा।
दरअसल वित्त मंत्रालय ने लेबर संबंधी कानूनों में फेरबदल किया है इसमें Gratuity का यह नियम भी शामिल है। बता दें, जिस कंपनी में 10 से ज्यादा कर्मचारी होते हैं उन्हें नियमानुसार Gratuity देना होती है।

मध्यप्रदेश में 17 मई के बाद होगा मंत्रिमंडल विस्तार, सीएम शिवराज ने दिए संकेत

क्या है वर्तमान व्यवस्था

सर्विस में 5 साल पूरे होने पर कर्मचारी ग्रेच्युटी का हकदार बनता है। 5 साल से पहले नौकरी छोड़ने पर उसे यह राशि नहीं मिलती है। Gratuity से जुड़ा एक महत्वपूर्ण नियम यह भी है कि यदि 5 वर्ष की सेवा से पहले ही कर्मचारी की मृत्यु हो जाती है तो कंपनी को परिवार को वे Gratuity की रकम देना होती है। इसी तरह यदि कोई कर्मचारी नौकरी के दौरान दिव्यांग हो जाता है तो भी कंपनी को उसे ग्रेच्युटी देना होती है।

किन कर्मचारियों को होगा फायदा

Gratuity भुगतान की सीमा पांच से घटकर 1 साल होती है तो इससे उन कर्मचारियों को फायदा होगा, जिन्हें पांच साल से पहले ही नौकरी छोड़ना पड़ जाती है या किसी अन्य कारण से छोड़ देते हैं।

क्या है ‘Pradhanmantri Mudra Yojna’, कैसे उठाएं इसका लाभ? जानिए…

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook, Twitter, WhatsApp
, Telegram, Google News, Instagram
Next Story
Share it