पेड़ से लटकता मिला मानव कंकाल, नीचे बिखरा मिला पैसा, आखिर यह कैसा हादसा..

ग्वालियर मध्यप्रदेश

पेड़ से लटकता मिला मानव कंकाल, नीचे बिखरा मिला पैसा, आखिर यह कैसा हादसा..

ग्वालियर। जमीन पर बिखरा काफी पैसा देख चरवाहा काफी खुश हुआ। लेकिन जब वह पैसे समेटते हुए बाद में भगवान का धन्यवाद करने के लिए उपर की ओर देखा तेा वह भौचक्का रह गया। उसके हांथ में जितने भी पैसे थे वह वहीं छूट गये। मुह से आवाज निकलनी बंद हो गई। साथ ही अभी-अभी भगवान से जुडा नाता भी टूट गया। चरवाहे को भगवान भी भूल गये और अपनी बकरियों को भी छोडकर चिल्लाते हुए भाग निकला। उसे जिस पेड के नीचे पैसा मिला उसी पेड पर एक मानव कंकाल लटकता हुआ दिखा। मानव कंकाल को देखते ही चरवाहे के होस उड गये। चरवाहे के बताये अनुसार वह मानव कंकाल काफी डरावना था।

AMAZON DEALS – UPTO 50% OFF

मानव कंकालों से बना है चर्च , हर कोई देखना चाहता है यहां का खौफनाक मंजर


क्या है मामला


ग्वालियर के बेहट के जंगल में बकरी चराने गए एक चरवाहे को शव और पैसा मिला। पहले तो जमीन पर पडे पैसे को दंेखर वह खुश हुआ लेकिन जैसे ही उसकी नजर पेड पर लटकते हुए मानव कांकाल में बदले शव पर पडा तो वह काफी घबरा गया। यह घटना शनिवार की बताई जा रही है। चरवाहें ने इसकी जानकारी फोन के माध्य से पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पेड से उतारकर पीएम के लिए अस्पताल भेज दिया है। वही अभी तक यह पता नही चला है कि यह लाश किसकी है। पुलिस पतासाजी में जुटी हुई है।


पक्षियों ने नोच डाला था मानव शव


जिस पेड़ पर लटकता हुआ सव मिला है वह किसाका है अभी पता नही चल सका है। जानकारी के अनुसार पेड पर लकट रहे शव के अधिकरत भाग को पक्षियों ने नोचा डाला है। जिससे शव का चेहरा स्पष्ट नही हो रहा है। पुलिस यह जानने के प्रयास में है कि यह किसका शव है। एक अंदाज मे मुताबिक शव करीब 20 दिन पुराना है। वही अनुमान लगाया जा रहा है कि उक्त मृतक व्यक्ति ने आत्महत्या की है। और नीचे पडे पैसे उसी के होंगे।

पुल के नीचे मानव कंकाल होने से मच गई सनसनी,जांच के लिए ले जाएगा लैंब

शिक्षक गिरफतार, फेल कर देने की धमकी देकर छात्राओं के साथ करता था

एक दूल्हे ने की 6 दिन में दो शादियां, दहेज लेकर फरार

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *