रीवाः इटौरा के सरकारी जमीन से कब्जा हटाने भाजपा विधायक का पत्र वायरल...

रीवाः इटौरा के सरकारी जमीन से कब्जा हटाने भाजपा विधायक का पत्र वायरल…

मध्यप्रदेश रीवा

रीवाः इटौरा के सरकारी जमीन से कब्जा हटाने भाजपा विधायक का पत्र वायरल…

रीवा। शहर के विश्वविद्यालय इटौरा बाईपास के पास सरकारी जमीन से अवैध कब्जा हटाने के लिये भाजपा के विधायक नाग्रेन्द्र सिहं ने मध्यप्रदेश शासन के प्रमुख सचिव राजस्व को पत्र लिखा था। उनके पत्र को प्रमुख सचिव ने गम्भीरता से लेते हुए जमीन में कब्जे को लेकर जांच करवाने के साथ ही उसे हटाने की भी कार्रवाई की है।

यह था पत्र

शोसल मीडिया पर वायरल हुये पत्र में विधायक ने 13 अगस्त 20 को प्रमुख सचिव के नाम पत्र लिखा था। जिसमें उन्होने प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया कि तथाकथित संगठन के श्रीधर दुबे के द्वारा सरकारी जमीन पर परशुराम आश्रम के नाम पर कब्जा किया गया है। इससे करोड़ो की सरकारी सम्पत्ति खुर्द-बुर्द हो रही है।

खाद्य मंत्री Bisahulal Singh ने वेयर हाऊसिंग कॉर्पोरेशन के चेयरमेन का किया पदभार ग्रहण

प्रमुख सचिव ने इस पत्र को गम्भीरता से लिया और 2 सितम्बर 20 को कार्रवाई के लिये पत्र स्थानिय प्रशासन को प्रेषित किया था। जांच के बाद प्रशासन ने सरकारी जमीन पर बने अवैध निर्माण को गिरा दिया, जबकि परशुराम मंदिर सुरक्षित हैं।

एन्टी अभियान के तहत कार्रवाई

दरअसल प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के निर्देश पर प्रदेश भर में एन्टी भूमफिया अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत परशुराम आश्रम के नाम सरकारी जमीन से भी अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई।

रीवाः इटौरा के सरकारी जमीन से कब्जा हटाने भाजपा विधायक का पत्र वायरल...

कार्रवाई की निंदा

ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मझियार जीतेन्द्र सिहं ने परशुराम आश्रम परिसर में की गइ्र्र कार्रवाई की निंदा की है। उन्होने कहां कि मंदिर परिसर में प्रशासन द्वारा चलाया गया बुल्डोजर से साधू-संतों को समस्या आएगी। उन्होने कहां कि शिवराज सरकार ने यह कार्रवाइ्र्र करके धार्मिक आस्था को चोट पहुचाई है। हालांकि वायरल हो रहे इस पत्र की पुष्टि रीवा रियासत न्यूज़ पोर्टल नहीं करता है.

नगरीय निकाय चुनाव की तारीख तय, तैयारी पूरी कर चुका है चुनाव आयोग, जाने कब होगा चुनाव…

प्रदेश सरकार के निर्देश पर स्कूलों के अवकाश निरस्त, लगेंगी कक्षाएं, छात्र जायेंगे स्कूल

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *