भोपाल: नगरीय निकाय चुनाव: शिवराज सरकार ने किया इस नियम में बदलाव, जल्द होंगे चुनाव...

शिवराज ने दिए सख्त निर्देश, कहा- कोई भी फाइल बिना समाधन हुई बंद तो, बक्शे नहीं जाएंगे अधिकारी-कर्मचारी

भोपाल मध्यप्रदेश

शिवराज ने दिए सख्त निर्देश, कहा- कोई भी फाइल बिना समाधन हुई बंद तो, बक्शे नहीं जाएंगे अधिकारी-कर्मचारी

भोपाल। शिवराज सरकार की समाधान ऑनलाइन में एक बार शिकायत करने पर अगर समस्या का समाधान नही हो पात। फिर भी अगर किसी अधिकारी ने जांच बंद कर दी तो अब उसकी खैर नही है। मुख्यमंत्री ने इस दिशा में कादम उठाते हुए ऐसा करने वाले अधिकारी को नोटिस जारी कर जावाब मंगा है।

शिवराज ने दिए सख्त निर्देश, कहा- कोई भी फाइल बिना समाधन हुई बंद तो, बक्शे नहीं जाएंगे अधिकारी-कर्मचारी

वही कार्रवाई करने का भी आदिश दिया गया है। प्रदेश की जानता को किसी भी तरह की परेशानी होने पर वह सीधे मुख्यमंत्री आनलाइन में शिकायत कर उसका निराकरण करवा सकते हैं। लेकिन इस समय देखा जा रहा है कि समस्या का समाधान किये बगैर ही अधिकारी जांच पूरी कर फाइल बंद कर रहे हैं।

अधिकारी कर्माचारी होगे दंडित

समाधान आनलाइन में आमजन की शिकायात का निराकरण किये बगैर ही उसकी फाइल बंद करने वाले अधिकारी कर्मचारी की अब खैर नही है। उक्त बाते सीएम शिवराज सिंह ने प्रदेश के अधिकारियो और कर्मचारियों को दिये हैं। वही इस सम्बंध इसके निर्दश मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस दे दिये हैं। जब तक दर्ज शिकायत का समाधान शिकायतकर्ता को ना मिले शिकायत बंद नहीं की जाना चाहिए।

कई अधिकारियो केा कारण बताओ ंनोटिस जारी

जानकारी के अनुसार जबलपुर में सुवर्षा चैधरी को भी दो लाख के भुगतान में हुए विलंब पर सीएम ने कार्रवाई करते हुए जिला अधिकारी को कारण बताओं नोटिस जारी किया है। इसी तरह सुरागिनी कोरी का दोपहिया वाहन चोरी हेा गया और बिन किसी सूचना के प्रकरण को बंद कर दिया गया।

जिस डीएसपी को कारण बताओ नोटिस देने के निर्देश दिए। वही छतरपुर जिले में अवधेश यादव के परिजन की मृत्यु पर दी जोने वाली सहायता राशि में देरी करने पर एसडीएम पर काडी कार्रवाई के निर्देश दिये हैं। इसी तरह कई जिलों में कार्य करने में लापरवाही बरतने पर कार्यवाही के निर्देश दिये गये हैं।

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *