सतना: उड़ीसा से लाया जा रहा 47 लाख रूपये कीमत का गांजा पुलिस के लगा हाथ, जानिए कैसे ?

रीवा: नशे पर रोक क्यों नहीं, बढ़ रहा अपराध, पढ़िए पूरी खबर…

मध्यप्रदेश रीवा

रीवा: नशे पर रोक क्यों नहीं, बढ़ रहा अपराध, पढ़िए पूरी खबर…

रीवा। शासन-प्रशासन में बैठे लोग शायद यही सोचते हैं कि सरकार चलाने के लिए शराब का कारोबार जरूरी है। अन्यथा सरकार चलाना मुश्किल हो जायेगा। यही कारण है कि बढ़ते अपराध के बावजूद इस कारोबार पर कोई लगाम नहीं है।

वैसे तो नशे का कारोबार तो जिले में भर में चल रहा है। लेकिन वर्तमान में गांवों में काफी जोर-शोर से यह कारोबार फल फूल रहा है। जिसकी गिरफ्त में 80 प्रतिशत युवा वर्ग आ चुका है।

हालांकि सरकार शराब आदि की बिक्री के लिये बाकायदे लाइसेंस जारी कर मान्यता प्रदान करती है लेकिन इसके अलावा कई गुना बिक्री अवैध तरीके से हो रही है। जिसका सीधा प्रभाव समाज पर पड़ रहा है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण देखा जा सकता है कि दिन प्रतिदिन अपराधों में बढ़ोत्तरी हो रही है। हत्या, राहजनी, लूट जैसे अपराध काफी बढ़े हैं। इसका सबसे बड़ा कारण नशा ही है।

रीवा: अपने अदभुद रूप में भक्तो को दर्शन दे रही है मां कालिका, पढ़िए पूरी खबर

शासन-प्रशासन की अपराध रोकने दिलचस्पी नहीं-

नशे के बढ़ते कारोबार के कारण अपराध में बढ़ोत्तरी की जानकारी शासन-प्रशासन को है फिर भी उसे रोकने का प्रयास नहीं किया जाता। इसका कारण यह है कि शासन-प्रशासन की समस्त सुख सुविधाओं का स्त्रोत नशा कारोबार से पूर्ण होता है।

यही कारण है कि सब कुछ जानते हुए भी कार्रवाई नहीं हो पाती है। जबकि आये दिन मीडिया के माध्यम से आमजन इस संबंध में शासन-प्रशासन का आगाह करते रहते हैं। इससे साबित होता है कि सरकार नहीं चाहती कि अपराध रुके।

MP: आशिक मिजाज TI ने थाने में युवती से ऐसा क्या कर दिया कि अफसरो के भी उड़ गए होश, अपराध दर्ज कर की कार्रवाई

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *