इंदौर

50 लाख में तय था सौदा, एसटीएफ को लगी भनक और माल सहित ओरोपी गिरफतार

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:40 AM GMT
50 लाख में तय था सौदा, एसटीएफ को लगी भनक और माल सहित ओरोपी गिरफतार
x
एसटीएफ ने कार्रवाई की है। एटीएफ ने कार्रवाई करते हुए 50 लाख रूपये की तेदुए की खाल आरापियों के पास से बरामद किया है। आरोपी इस

50 लाख में तय था सौदा, एसटीएफ को लगी भनक और माल सहित ओरोपी गिरफतार

इंदौर। वन्य प्राणी अंगों की तस्करी करने वाले गिरोह पर एसटीएफ ने कार्रवाई की है। एटीएफ ने कार्रवाई करते हुए 50 लाख रूपये की तेदुए की खाल आरापियों के पास से बरामद किया है। आरोपी इस खाल को बेचने की फिराक में थे तभी इसकी सूचना टाइगर स्ट्राइक फोर्स भोपाल के माध्यम से एसटीएफ को हुई थी। जिस पर कार्रवाई करते हुए एसटीएफ ने खाल सहित दो आरोपियांे को पकड़ा है।

50 लाख में तय था सौदा, एसटीएफ को लगी भनक और माल सहित ओरोपी गिरफतार

पकडे गये आरोपियो से पुलिस पूछताछ कर रही है। ऐसा माना जा रहा है कि यह आरोपी पेशेवर हैं। काफी दिनों से इनके द्वारा वन्य जीवों के अंगों की तस्करी करने में जुडे हुए है। एसटीएफ का मानना है कि पकडे गये आरोपियों से एक वन्य प्राणी से एक बडे गिरोह का पर्दाफास किया जा सकता है।

एसटीएफ को टीएसएफ ने दी थी जानकारी

वन्यप्राणी अंग तस्करी के मामले मे पकड में आये आरोपियों की सूचना एसटीएफ को टाइगर स्टाइक फोर्स से मिली थी। जानकारी मे ंबताया गया था कि एक नामी परिवार मे ंकाम करने वाले कुछ लोग तेदुए की खाल सहित अन्य जानवरो के अंग बेचने की फिराक में हैं। इसकी जानकारी लगते ही एसटीएफ ने एक गुप्त कार्रवाई की और तेंदुए की खाल बेचने से पहले ही आरोपियों को माल सहित पकड़ लिया है।

ये आरोपी आये एसटीएफ की पकड़ में

जानकारी मिलने के बाद एसटीएफ ने खोजबीन शुरू की तो पता चला कि संतोष तंवर और श्रीराम तंवर काफी दिनों से वन्य जीवो के अंगों की तस्करी करते है। वही जानकारी देने वाले व्यक्ति ने यह भी बताया कि वह इस समय कुछ बेचने की फिराक मे ंहैं। एसटीएफ को टीएसएफ की सूचना सही साबित हुई और एसटीएफ ने कार्रवाई करते हुए दोनो आरोपियो को पकड़ लिया। और उनके पास से 50 लाख कीमत की तेदुए की खाल बरामद कर लिया है। दोनो आरोपियों से पूछताछ के लिए इंदौर लाया जा रहा है।

Next Story