इंदौर

इस नम्बर पर आरटीओ विभाग ने कमाया साढ़े चार लाख रूपये, देर रात तक लगाई गई बोली...

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:39 AM GMT
इस नम्बर पर आरटीओ विभाग ने कमाया साढ़े चार लाख रूपये, देर रात तक लगाई गई बोली...
x
इस नम्बर पर आरटीओ विभाग ने कमाया साढ़े चार लाख रूपये, देर रात तक लगाई गई बोली...इंदौर। आरटीओ विभाग के लिए वीआईपी नम्बर ने अच्छी कमाई की है।

इस नम्बर पर आरटीओ विभाग ने कमाया साढ़े चार लाख रूपये, देर रात तक लगाई गई बोली…

इंदौर। आरटीओ विभाग के लिए वीआईपी नम्बर ने अच्छी कमाई की है। जिससे माना जा रहा है कि लोगो में ऐसे नम्बरो को लेकर खासी रूचि है। जानकारी के मुताबिक शरिवार की देर रात तक चली नम्बरो की बोली में कार का 0001 नंबर 4 लाख 60 हजार रुपये में बिक्री हुआ है। इस नंबर के लिए तीन दावेदार मैदान में थे।

एआरटीओ अर्चना मिश्रा ने बताया कि इस बार कार के नंबरों की नई सीरीज शुरू हुई थी। इसका अच्छा रिस्पांस मिला हैं। कार और दोपहिया सहित करीब 60 नंबर बिक्री किए गए हैं।

नीलामी की यह है प्रक्रिया

आवेदक नंबर का बेस प्राइज भर कर बोली प्रक्रिया में शामिल हो सकते हैं। इसके बाद अगर कोई दूसरा दावेदार नहीं हो तो बेस प्राइज में ही नंबर मिल जाता है। अगर दूसरा दावेदार आता है तो अधिकतम बोली लगाने वाले को नंबर मिल जाता है। इसके बाद उस नंबर पर 60 दिन में रजिस्टर्ड करवाना जरूरी होता है।

इस नम्बर पर आरटीओ विभाग ने कमाया साढ़े चार लाख रूपये, देर रात तक लगाई गई बोली...

बिक्री हुए ये नम्बर

बताया जा रहा है कि कार के 0001, 0002, 0007, 0009, 7777, 5050, 5555, 9999 नंबरों के लिए आवेदकों ने बोली लगाई है। इसके साथ ही बाइक और स्कूटर के 1111, 9100, 5500 आदि नंबर भी बिक्री किए गए हैं।

7 दिन का है समय

बताया जा रहा है कि नंबरों को ऊंची बोली लगाकर जिन्होने खरीदी की है। उन्हें बेस प्राइज के अलावा शेष राशी को 7 दिन में जमा कर आरटीओ से लेटर लेना होगा। यह प्रकिया पूरी नही करने पर आरटीओ नंबर और बेस प्राइज का शुल्क सीज कर लेगा और अगली नीलामी में नंबर फिर से आ जाएगा।

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

Next Story
Share it