इंदौर

Corona से बचाव के लिए खर्च करेंगे IIFA के लिए मिलने वाला फंड - सीएम शिवराज

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:19 AM GMT
Corona से बचाव के लिए खर्च करेंगे IIFA के लिए मिलने वाला फंड - सीएम शिवराज
x
Corona से बचाव के लिए खर्च करेंगे IIFA के लिए मिलने वाला फंड - सीएम शिवराज मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आईफा (IIFA) तो

Corona से बचाव के लिए खर्च करेंगे IIFA के लिए मिलने वाला फंड - सीएम शिवराज

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आईफा (IIFA) तो पहले ही तमाशा था, इसकी जरूरत क्या थी। पहले समाचार आया कि 40 करोड़ लगेंगे। आईफा (IIFA) के लिए कुछ लोग पैसा दे रहे थे, मेरा साफ कहना है कि वे कोरोना (Corona) से संकट से निपटने के लिए पैसा दे। वो जो पैसा देंगे उसे हम कोरोना (Corona) की जंग से लड़ने में खर्च करेंगे।

ये बात सीएम शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh Chouhan) ने कही। चौहान ने शुक्रवार को भोपाल में कहा कि भाजपा के सभी विधायकों ने तय किया है कि वह 1 वर्ष तक तीस फीसदी कम वेतन लेंगे। उन्होंने अपील की कि अन्य दलों के विधायकों भी भाजपा विधायकों की तरह कम सैलरी लेने का निर्णय करे। सभी ने मुझे आश्वस्त किया है कि सब सहयोग करेंगे। बता दें IIFA इस वर्ष भोपाल (Bhopal) एवं इंदौर (Indore) में होना तय था।

सिंगरौली में रिलायंस का फ्लाई एश डैम टूटा, कई घरों में भरा मलबा, 5 लोग लापता

सीएम ने कहा कि यह संकट का समय है, पैसा बचाकर युद्घ में लगाएं। आज हम विधायक निधि में भी संशोधन करने जा रहे हैं अब जो भी विधायक चाहेगा वह विधायक निधि का उपयोग कोरोना (Corona) संकट से लड़ने में कर सकेगा। कलेक्टर को बताकर विधायक जो काम कोरोना (Corona) संकट से निपटने में अपेक्षित समझेंगे, उसमें विधायक निधि का पैसा प्रयोग कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि सभी राजनीतिक दल अपने मतभेद छोड़ एक हो जाएं। हम मिलकर इस लड़ाई को लड़ें इसलिए मैंने पूर्व सीएम कमल नाथ, उमा भारती और दिग्विजय सिंह से चर्चा की है। उन्हें जानकारी भी दी है और उनसे सुझाव भी मांगे हैं। मैं नहीं हम सब मिलकर कोरोना (Corona) से लड़ें। राजनीतिक दल, समाज सेवी संगठन, एनजीओ सब मिलकर कोरोना (Corona) संकट से लड़ने में प्रशासन का सहयोग कर सकते हैं, मैं तत्काल प्रभाव से कलेक्टर को निर्देश दे रहा हूं यह लड़ाई प्रशासन और सरकार की नहीं है। सभी समाज की भी है, सब मिलकर प्रशासन का सहयोग कर सकते हैं।

मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने अक्टूबर 2022 तक के लिए 500 करोड़ का कर्ज लिया

सीएम ने कहा कि सभी कलेक्टर को निर्देश जा रहे हैं कि जो सहयोग देना चाह रहे हैं वे मर्यादाओं का पालन करते हुए, सोशल डिस्टेन्स का पालन कर लोगों की सहायता करना सुनिश्चित करें। जन अभियान परिषद, एनसीसी और एनएसएस जैसे संगठन भी सक्रिय हो रहे हैं। सरकार अकेले नहीं सब मिलकर इस लड़ाई को लड़ेंगे और कोरोना (Corona) संकट को परास्त करेंगे।

Next Story
Share it