भोपाल

भोपाल रेलवे स्टेशन के VIP Guest House में युवती के साथ सेक्शन इंजीनियरों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, निलंबित किए गए

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:33 AM GMT
भोपाल रेलवे स्टेशन के VIP Guest House में युवती के साथ सेक्शन इंजीनियरों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, निलंबित किए गए
x
भोपाल. भोपाल रेलवे स्टेशन के VIP Guest House में एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला शनिवार को सामने आया था. इस मामले में रेलवे के दो

भोपाल रेलवे स्टेशन में युवती के साथ दुष्कर्म का मामला, दो Engineer निलंबित किए गए

भोपाल. भोपाल रेलवे स्टेशन के VIP Guest House में एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला शनिवार को सामने आया था. इस मामले में रेलवे के दो सेक्शन इंजीनियरों को रेलवे ने जांच में दोषी पाते हुए निलंबित कर दिया है.

मामला भोपाल के GRP थानांतर्गत रेलवे स्टेशन के VIP Guest House का है. जहाँ एक 22 वर्षीय युवती के साथ रेलवे के सेक्शन इंजीनियरों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था. रविवार को दोनों आरोपितों को रेलवे ने प्राथमिक जांच में दोषी पाते हुए निलंबित कर दिया है. मामले की विस्तृत जांच जारी है, जिसकी रिपोर्ट 2 अक्टूबर तक आ सकती है.

महोबा की रहने वाली एक युवती ने भोपाल रेलवे स्टेशन के VIP Guest House में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की शिकायत की है. युवती की शिकायत पर GRP थाना भोपाल में दो लोगों पर नामजद FIR दर्ज की गई है.

बीजेपी नेता और सूदखोरों से परेशान प्रतिष्ठित फोटो स्टूडियो के मालिक ने की आत्महत्या…

क्या है मामला

एसपी रेल हितेश चौधरी के मुताबिक़ भोपाल रेल मंडल में डीआरएम कार्यालय में सीनियर सेक्शन इंजीनियर सेफ्टी के पद में पदस्थ राजेश तिवारी से युवती का परिचय झांसी में रहने वाले एक रिश्तेदार के माध्यम से हुआ था. परिचय के बाद युवती की राजेश से फोन पर बातचीत होने लगी थी. राजेश ने युवती को नौकरी देने के बहाने भोपाल बुलाया. राजेश के बुलावे पर युवती शनिवार की सुबह 7 बजे भोपाल एक्सप्रेस से भोपाल पहुंची. जहाँ VIP Guest House में राजेश ने उसके रुकने का इंतज़ाम कराया था. इसके बाद सुबह 11 बजे राजेश एक अन्य व्यक्ति के साथ वहां आया एवं युवती को पानी पीने का आग्रह किया. जैसे ही युवती ने पानी पिया वह बेहोश हो गई. इसके बाद लबभग 3 बजे उसे होश आया तब उसे अपने साथ हुए दुराचार का पता चला. इसके बाद उसने थाने पहुंचकर नामजद शिकायत की है.

विदेशी युवतियों से इंदौर में कराया जाता था देह व्यापार, होटल में पुलिस पहुंची तो…

मामले में भोपाल रेल मंडल में डीआरएम कार्यालय में सीनियर सेक्शन इंजीनियर सेफ्टी के पद में पदस्थ राजेश तिवारी को मुख्य आरोपी बनाया गया है, साथ ही सहयोगी आलोक मालवीय भोपाल स्टेशन पर सीनियर सेक्शन इंजीनियर विद्युत को भी आरोपी बनाया गया है. डीआरएम उदय बोरवणकर ने शनिवार रात को ही मामले की जांच के आदेश दे दिए थें. जिस पर प्राथमिक जांच में दोनों इंजीनियर दोषी पाए गए. रविवार की सुबह दोनों आरोपित इंजीनियरों को निलंबित कर दिया गया है.

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook, Twitter, WhatsApp, Telegram, Google News, Instagram
Next Story
Share it