2021/04/covaxin-bharat-biotech-america.jpg

दुनिया को हमारी स्वदेशी COVAXIN पर भरोसा / अमेरिकी महामारी एक्सपर्ट का दावा, कोरोना के वैरिएंट 617 को भी बेअसर करने में सक्षम है कोवैक्सीन

RewaRiyasat.Com
रीवा रियासत डिजिटल
28 Apr 2021

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के खतरे के बीच एक अच्छी और राहत भरी खबर आ रही है. भारत की स्वदेशी कोवैक्सीन (Covaxin) की तारीफ़ अमेरिकी महामारी एक्सपर्ट ने भी की है. अमेरिकी चीफ मेडिकल एडवाइजर एवं महामारी के टॉप एक्सपर्ट डॉ. एंथनी फौसी (Dr Anthony Fauci) ने दावा किया है कि COVAXIN कोरोना के नए वैरिएंट 617 को बेअसर करने में भी कारगर है.

काफी अहम साबित हो रहा है वैक्सीनेशन 

उन्होंने कहा है कि भारत में कोवैक्सिन लगवाने वाले लोगों के डेटा से वैक्सीन के असर के बारे में पता चला है. इसलिए भारत में मुश्किल हालात के बावजूद वैक्सीनेशन काफी अहम साबित हो सकता है.

डबल म्युटेंट कोरोनावायरस वेरिएंट के खिलाफ भी कारगार है COVAXIN : ICMR

इधर, 20 अप्रैल को भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने BHARAT BIOTECH कंपनी द्वारा बनाई गई COVAXIN को बताया था कि यह डबल म्युटेंट कोरोना वैरिएंट के खिलाफ भी  प्रोटेक्शन देती है. अपनी स्टडी के आधार पर ICMR ने कहा कि ब्राजील वैरिएंट, UK वैरिएंट और दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट पर भी ये वैक्सीन असरदार है और उनके खिलाफ भी यह प्रोटेक्शन देती है.

डबल म्युटेंट कोरोना वैरिएंट भारत के 10 से अधिक राज्यों में सामने आया है. भारत में कोरोना की दूसरी लहर का जिम्मेदार Double mutant Coronavirus variant और varient 617 को ही बताया जा रहा है. 

डबल म्यूटेंट कोरोना वैरिएंट सबसे घातक है. यह न केवल तेजी से ट्रांसमिट होता है, बल्कि बहुत कम समय में बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाता है. वहीं, UK, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट्स भी भारत में बढ़ रहे री-इन्फेक्शन के केसेस में सामने आए हैं.

क्या है वैरिएंट 617 ?

भारत में कोरोना के मामलों में आई अचानक तेजी की वजह 617 वैरिएंट को ही माना जा रहा है. इस वैरिएंट के सबसे ज्यादा मामले दिल्ली और महाराष्ट्र में आ रहे हैं.

The world is confident of our indigenous COVAXIN / US pandemic expert's claim, is also able to neutralize Corona's variant 617 covaxine

SIGN UP FOR A NEWSLETTER