विश्व

अजब-गजब : युवती के साथ 11 मिनट तक रेप हुआ, इसलिये महिला जज ने रेपिस्ट की सजा कम कर दी, यह तर्क दिया

अजब-गजब : युवती के साथ 11 मिनट तक रेप हुआ, इसलिये महिला जज ने रेपिस्ट की सजा कम कर दी, यह तर्क दिया
x
11 मिनट ही रेप हुआ है इसलिए कोर्ट ने रेपिस्ट की सजा कम कर दी. कोर्ट के इस फैंसले के खिलाफ लोगों में आक्रोश है, लोग विरोध के तौर पर सड़कों पर उतर रहें हैं.

33 वर्षीय युवती से रेप केस में स्विट्ज़रलैंड के एक कोर्ट की महिला जज ने दोषी की सजा महज इसलिये घटा दी कि युवती के साथ 11 मिनट तक ही रेप हुआ था। इस फैसले से लोगो में आक्रोश व्याप्त हो गया और वे सड़कों पर उतर आए हैं। वे सजा कम करने के फैसले को वापस लिए जाने की मांग कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने कोर्ट के बाहर विरोध के तहत मौन भी रखा। फैसले का महिलाओं ने जमकर विरोध किया।

जज ने दिया यह तर्क

रेप के दोषियों की सजा घटाने वाली महिला जज ने अपने फैसले में कहा है कि पीड़िता से 11 मिनट तक रेप हुआ है, इसलिए दोषियों की सजा घटाई जा रही है।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक वर्ष पूर्व बेसल में 33 वर्ष की एक महिला के साथ 2 पुर्तगालियों ने रेप किया था। जिसमें से एक आरोपी 17 वर्ष का था, जबकि दूसरा 32 साल है। इस मामले में नाबालिग दोषी को कोर्ट ने अब तक सजा नहीं सुनाई है, वहीं दूसरे दोषी की 51 महीने की सजा को घटाकर 36 महीने कर दिया है।

जज ने कहा पीड़िता ने भेजे गलत सिग्नल

रेप मामले में सुनवाई करने वाली महिला जज ने दोषी की सजा तो कम की है। उन्होने महिला पर तर्क दिया कि पीड़ित महिला ने गलत सिग्नल दिया। जिसके कारण दोषियों की हिम्मत बढ़ी, हांलाकि जज के इस तर्क पर प्रदर्शनकारियों का आरोप रहा कि पीड़िता ने नहीं बल्कि कोर्ट ने ऐसा फैसला देकर गलत सिग्‍नल दे दिया है।

वहीं पीड़िता के वकील ने कोर्ट के फैसले पर कहा, ऐसा फैसला बेहद निराशाजनक है और समझ से बाहर है। जज के लिखित फैसले आने के बाद आगे का कदम उठाएंगे।

Next Story