उत्तरप्रदेश

Indian Railway: Lockdown के बाद 15 अप्रैल से चलेंगी Train

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:18 AM GMT
Indian Railway: Lockdown के बाद 15 अप्रैल से चलेंगी Train
x
Indian Railway Lockdown के दौरान Coronavirus पर स्थिति नियंत्रण में रही तो 15 अप्रैल से Train का संचालन सुचारू किया जा सकता है. Railway Board

Indian Railway: Lockdown के बाद 15 अप्रैल से चलेंगी Train

यदि Lockdown के दौरान Coronavirus पर स्थिति नियंत्रण में रही तो Indian Railway 15 अप्रैल से ट्रेनों (Train) का संचालन सुचारू किया जा सकता है. रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों का संचालन शुरू करने के लिए सभी 16 जोन और मंडल प्रबंधकों को निर्देश दिए हैं.

वीसी में अधिकारियों को इंजनों का परीक्षण करने के निर्देश:

कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण देशभर में ट्रेनों का संचालन बंद है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाए जाने के दिन से ही ट्रेनों का संचालन नहीं हो रहा है. 14 अप्रैल तक लॉकडाउन होने के कारण ट्रेनें बंद हैं, केवल मालगाड़ियां ही संचालित हो रही हैं. 14 अप्रैल को लॉकडाउन समाप्त होने के बाद ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा. इसके लिए रेलवे प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. रेलवे बोर्ड चेयरमैन ने हाल ही इसे लेकर सभी 16 जोनल रेलवे के महाप्रबंधकों और मंडलों के डीआरएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी. वीसी में अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि सभी जोनल रेलवे और मंडल अपने-अपने कोच और इंजनों का परीक्षण कर लें, जिससे कि 15 अप्रैल से ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा सके.

वैज्ञानिकों ने 48 घंटे में ही ख़त्म कर दिया Coronavirus, Anti-Parasite ने किया कमाल

ट्रेनों के संचालन को लेकर बनाई जा रही योजना:

उत्तर-पश्चिम रेलवे के ऑपरेशन सेक्शन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 15 से एक साथ सभी ट्रेनें नहीं चलेंगी. पहले ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित किया जाएगा, जहां पर कोरोना का प्रकोप ज्यादा है. यानी कोरोना के हॉट स्पॉट वाले क्षेत्रों के लिए ट्रेनों का संचालन शुरुआती दिनों में नहीं होगा या ऐसे क्षेत्रों से होकर गुजरने वाली ट्रेनों का स्टॉपेज इन शहरों में नहीं दिया जाएगा. सूची तैयार कर यह योजना बनाई जा रही है कि किन ट्रेनों का संचालन शुरू करना है और किन ट्रेनों का संचालन थोड़े दिनों बाद किया जाएगा. लंबे रूट की ऐसे ट्रेनें, जिनमें यात्रीभार ज्यादा रहता है, उन्हें शुरुआती दिनों में शुरू कर दिया जाएगा, जिससे यात्रियों को सुविधा मिल सके. जिन रूटों पर नियमित ट्रेनों का संचालन नहीं किया जाएगा, उनके लिए साप्ताहिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी.

सभी जोनल रेलवे से उनके कोचों की जानकारी मांगी:

इस बीच रेलवे बोर्ड के कोचिंग सेक्शन के कार्यकारी निदेशक ने अब सभी जोनल रेलवे से उनके कोचों की जानकारी मांगी है. संचालन से पहले सभी कोचों को बेहतर तरीके से डिसइन्फैक्टेंट से सैनिटाइज करने के निर्देश दिए हैं. यह भी कहा गया है कि 15 अप्रैल से ट्रेन चलाने के लिए अपनी तरफ से तैयारी पूरी कर लें. जिन कोच की मेंटिनेंस का कार्य नहीं हो सका है, उन्हें शेड या साइडिंग से मेंटिनेंस डिपो और पिट लाइन पर भेजा जाए, ताकि 15 अप्रैल से पहले सभी कोच तैयार किए जा सकें. कुलमिलाकर रेलवे प्रशासन की इन तैयारियों को देखकर लगता है कि 15 अप्रैल से जीवन एक बार फिर पटरी पर लौट सकेगा.

Next Story
Share it