उत्तरप्रदेश

हेलीकॉप्टर क्रैश में अकेले बचे देवरिया के Captain Varun Singh, Bhopal में है घर

हेलीकॉप्टर क्रैश में अकेले बचे देवरिया के Captain Varun Singh, Bhopal में है घर
x
तमिलनाडु (Tamil Nadu) के कुन्नूर (Cunnoor) में क्रैश हुए हेलीकॉप्टर में बचे कैप्टन वरुण सिंह (Captain Varun Singh)

तमिलनाडु (Tamil Nadu) के कुन्नूर (Cunnoor) में क्रैश हुए सीडीएस वीपिन रावत (CDS Vipin Rawat) के हेलीकॉप्टर में देवरिया (Deoriya) के रहने वाले ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Group Captain Varun Singh) भी सवार थे। इस हादसे में एकमात्र वही जीवित बचे हैं, जबकि सीडीएस श्री रावत, उनकी पत्नी समेत 11 अन्य सैन्य अफसरों की मौत हो गई है। हादसे की खबर मिलते ही वरूण के घर में कोहराम मच गया।

पूरा परिवार अर्मी में

कन्हौली गांव के रहने वाले 40 वर्षीय वरुण सिंह (Varun Singh) वायुसेना में ग्रुप कैप्टन हैं। वे तमिलनाडु (Tamil Nadu) के वेलिंग्टन (Wellington) में इन दिनों डुयूटी दे रहे है। जहां उनकी पत्नी और बेटा-बेटी भी रहते हैं। उनके पिता कर्नल केपी सिंह सेना से रिटायर्ड हैं। उन्होंने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के भोपाल (Bhopal) में अपना मकान बनवा रखा है। पत्नी उमा सिंह के साथ वहीं पर रहते हैं, जबकि वरुण सिंह के भाई तनुज सिंह नेवी में हैं।

चाचा है कांग्रेस नेता

कैप्टन वरुण प्रताप सिंह रुद्रपुर (Rudrapur Uttar Pradesh) से कांग्रेस के पूर्व विधायक व प्रवक्ता अखिलेश सिंह (Former MLA and spokesperson Akhilesh Singh) के भतीजे हैं। हादसे की खबर देवरिया में परिवार के लोगों को मिली तो यहां भी कोहराम मच गया। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अखिलेश सिंह को जैसे ही जानकारी लगी वे अपने घर कन्हौली चले गए। उन्होंने बताया कि हादसे में वरुण के गंभीर रूप से घायल होने की सूचना मिली है। सेना की तरफ से घटना की जानकारी परिवार को दी गई है। हादसे के बाद से वरुण की पत्नी उनके साथ अस्पताल में हैं। परिवार के अन्य लोग भी वहां के लिए रवाना हो गए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह न्यूज़ लिखते वक्त तक उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के चाचा कांग्रेस नेता अखिलेश प्रताप सिंह मीडिया को जानकारी देते हुए कहा है की 'वरुण सिंह के लिए 48 घण्टे अहम हैं, अभी अभी वे ICU में भर्ती हैं'

Next Story