उत्तरप्रदेश

BJP Manifesto 2019 Live Update: BJP ने जारी किया अपना संकल्प पत्र, किसानों से व्यापारियों तक जानें किसे क्या मिला

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:05 AM GMT
BJP Manifesto 2019 Live Update: BJP ने जारी किया अपना संकल्प पत्र, किसानों से व्यापारियों तक जानें किसे क्या मिला
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

नई दिल्ली। भाजपा ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। भाजपा ने इस घोषणा पत्र को 'संकल्प पत्र' नाम दिया है। पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को है और इसके ठीक 3 दिन पहले भारतीय जनता पार्टी के दीनदयाल उपाध्याय मार्ग स्थित अपने मुख्यालय में प्रधानमंत्री मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, घोषणा पत्र कमेटी के अध्यक्ष और गृहमंत्री राजनाथ सिंह के अलावा विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और वित्त मंत्री जेटली ने यह Manifesto जारी किया है।

पढ़ें Live Update - गृहमंत्री और घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने घोषणा पत्र में लिए गए 75 संकल्पों की जानकारी देते हुए बताया कि आने वाले 5 सालों में सरकार किन मुद्दों पर ध्यान फोकस करेगी।

- राष्ट्रवाद के प्रति हमारी पूरी प्रतिबद्धता है। इतना ही नहीं आतंकवाद के प्रति जीरो टॉलरेंस की पॉलिसी जारी रहेगी।

- यूनिफॉर्म सिविल कोड को लागू करने की प्रतिबद्धता थी और रहेगी।

- भारत में अवैध घुसपैठ को पूरी तरह से रोकेंगे

- सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल को संसद के दोनों सदनों से पास करवाएंगे साथ ही किसी भी राज्य की पहचान और संस्कृति को आंच नहीं आने देंगे।

- राम मंदिर पर पिछले घोषणा पत्र के संकल्प को दोहराते हुए जल्द से जल्द सौहार्दपूर्ण माहौल में राम मंदिर का निर्माण हो जाएगा।

- किसानों की बात करें तो 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प को लेकर आगे बढ़ेंगे। साथ ही एक लाख तक का क्रेडिट कार्ड पर जो लोन मिलता है वो 5 साल तक उस पर ब्याज शून्य होगा।

- ग्रमीण क्षेत्रों के विकास पर ध्यान बना रहेगा। किसान निधि जारी रहेगी और अब यह योजना हर किसान को लाभ पहुंचाएगी।

- छोटे और सीमांत किसानों को 60 वर्ष की उम्र के बाद पेंशन की सुविधा का संकल्प लिया गया है।

- राष्ट्रीय व्यापार आयोग बनाएंगे जो बेहद प्रभावी होगा जो व्यापारियों के लिए काम करेगा।

- लघु और सीमांत किसानों के साथ ही देश के छोटे दुकानदारों को भी 60 वर्ष की उम्र के बाद पेंशन दी जाएगी।

- भारत में जो क्षेत्रीय असंतुलन को कम करने की दिशा में काम करते रहेंगे। प्रधानमंत्री ने इन पांच सालों में इस दिशा में काफी काम किया है और आगे भी जारी रहेगा।

- देश में सभी चुनाव एक साथ करवाने का संकल्प भी जारी रहेगा और इस पर आम राय बनाने की कोशिश होगी।

- डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर स्कीम की मदद से हमने 1.10 लाख करोड़ की बचत की है। इसे और मजबूत करेंगे।

- को-ऑपरेटिव फेडरलिज्म को मजबूत करेंगे।

- 2022 तक नए भारत का निर्माण करने की प्रतिबद्धता पर कायम हैं और इसके लिए 75 कदम तय किए हैं। इसमें सिचाई योजनाओं को पूरा करना, किसानों को जीरो ब्याज पर 1 लाख लोन, किसानों और व्यापारियों के लिए पेंशन, युवाओं और छात्रों के लिए भी कई कदम उठाए जाएंगे। एक्सिलेंट इंजीनियरिंग संस्थाओं में सीटे बढ़ाएंगे। लॉ कॉलेज में भी सीटें बढ़ाएंगे। बुनयादी ढांचे के तहत हर परिवार को पक्का मकान, सभी गरीब परिवारों के एलपीजी सिलेंडर, हर घर तक बिजली, नेशनल हाईवेज की लंबाई दोगुना करेंगे, रेलवे में 2022 तक सभी पटरियों को ब्रॉडगेज में परिवर्तन का प्रयास रहेगा, स्वास्थ्य के मामले में आयुष्मान भारत के तहत काम किए जाएंगे, गरीबों के लिए उनके घर अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाई जाएगी, कुपोषण के खिलाफ कदम उठाए जाएंगे। ईज ऑफ डुइंग बिजनेस को और बेहतर बनाने का काम करेंगे, निर्यात को दोगुना करने का प्रयास होगा, सूक्ष्म, मध्यम और लघु उद्योगों के लिए सिंगल विंडो सिस्टम बनाएंगे।

2014-19 तक के पांच साल स्वर्ण अक्षरों में लिखे जाएंगेः शाह

- शाह ने पार्टी के घोषणा पत्र को लेकर कहा कि 2022 तक भारत आजादी की 75वीं सालगिरह मनाएगा और हम इसी आधार पर 75 संकल्प लेकर जनता के सामने जाएंगे। इसे अलग-अलग क्षेत्रों के लोगों से मिलकर और 6 करोड़ लोगों के साथ चर्चा करके बनाया गया है।

- मोदी सरकार के कार्यकाल में भारत एक विश्वशक्ति बनकर उभरा है। पहले कई बड़े फैसलों में दुनिया भारत को अलग रखती थी लेकिन अब ऐसा नहीं है। 2014-19 तक जो यात्रा चली है, इसमें देश का चहुमुंखी विकास हुआ है। देश की आशा अब अपेक्षा में बदल चुकी हैं।

- मोदी जी के नेतृत्व में सरकार ने आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब दिया। सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के माध्यम से आतंकवाद को जवाब दिया और बताया कि देश की सीमाओं से कोई छेड़छाड़ नहीं कर सकता। देश का गौरम आसमान छू रहा है।

- मोदी जी के नेतृत्व में भारत की अर्थव्यवस्था बेहतर हुई और दुनिया ने इस बात को स्वीकार किया। सरकार देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लेकर आई।

- आज देश के अधिकांश घरों में बिजली है। 8 करोड़ से ज्यादा शौचालय हैं, 7 करोड़ गरीबों के घर में गैस कनेक्शन दिये गये हैं, 50 करोड़ गरीबों के लिए मुफ्त इलाज सुनिश्चित किया गया है।

- 2014 से 2019 के बीच का कार्यकाल इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा। गैस सिलेंडर, घर, बिजली जैसी बुनयादी जरूरतों को लोगों तक पहुंचाने में मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा को सफलता मिली है।

- शाह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि 2014 में हम अपना विजन लेकर आपके सामने आए और आपने मोदी जी के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत दिया। इसके बावजूद भाजपा ने एनडीए के सहयोगी दलों के साथ सरकार बनाई।

- मंच पर मौजूद सभी नेताओं के स्वागत के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पार्टी के संकल्प पत्र की जानकारी दे रहे हैं।

- पीएम मोदी के मुख्यालय पहुंचे ही अमित शाह ने उनका स्वागत किया। यहां से दोनों ही मंच पर पहुंचे।

इस तरह बना संकल्प पत्र पार्टी ने घोषणा-पत्र तैयार करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में 20 सदस्यीय कमेटी बनाई थी। इसमें केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली भी शामिल थे। इस कमेटी की कई उप कमेटियां भी थीं, जो घोषणा-पत्र तैयार करने के लिए राजनाथ सिंह को इनपुट देती थीं।

इसके अलावा, भाजपा ने अपना घोषणा-पत्र तैयार करने के लिए 6 करोड़ आम नागरिकों के भी सुझाव लिए हैं। इसके लिए 300 से अधिक वीडियो रथ बनाए थे वहीं 7700 सुझाव पेटियां बनाई गई थीं जो देश भर में भ्रमण कर अपने बक्सों में लोगों के सुझाव स्वीकार करते थे। इसके अलावा, पार्टी ने नागरिकों से सुझाव ई-मेल और राज्यों में हुई परामर्श सभाओं से भी लिए हैं।

Next Story