उत्तरप्रदेश

यूपी मे जनसंख्या नीति पर ड्राफ्ट जारी होते ही महिला ने 4 बच्चों को दिया एक साथ जन्म, सोशल मीडिया पर किये जा रहे सवाल

Suyash Dubey
12 July 2021 8:49 PM GMT
यूपी मे जनसंख्या नीति पर ड्राफ्ट जारी होते ही महिला ने 4 बच्चों को दिया एक साथ जन्म, सोशल मीडिया पर किये जा रहे सवाल
x
Ghaziabad Four Children Birth Viral News : Uttar Pradesh राज्य के गाजियाबाद (Ghaziabad) के एक निजी अस्पताल में महिला ने एक साथ 4 बच्चों को जन्म दिया है। डॉक्टर के मुताबिक, बच्चों का जन्म आईवीएफ तकनीक (IVF) से हुआ है। जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। ज्ञात हो कि एक दिन पूर्व ही उत्तर प्रदेश में नई जनसंख्या नीति (Population Policy of Uttar Pradesh) पर तैयार डाफ्ट को जारी किया गया था। जिसमें दो से ज्यादा बच्चे होने पर सरकारी योजना का लाभ नही दिये जाने की योजना बनाई गई है। दूसरे ही दिन एक साथ 4 बच्चों के जन्म होने से सोशल मीडिया के यूजर्स इस पर कम्मेंट लिख रहे है।

Ghaziabad Four Children Birth Viral News : Uttar Pradesh राज्य के गाजियाबाद (Ghaziabad) के एक निजी अस्पताल में महिला ने एक साथ 4 बच्चों को जन्म दिया है। डॉक्टर के मुताबिक, बच्चों का जन्म आईवीएफ तकनीक (IVF) से हुआ है। जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। ज्ञात हो कि एक दिन पूर्व ही उत्तर प्रदेश में नई जनसंख्या नीति (Population Policy of Uttar Pradesh) पर तैयार डाफ्ट को जारी किया गया था। जिसमें दो से ज्यादा बच्चे होने पर सरकारी योजना का लाभ नही दिये जाने की योजना बनाई गई है। दूसरे ही दिन एक साथ 4 बच्चों के जन्म होने से सोशल मीडिया के यूजर्स इस पर कम्मेंट लिख रहे है।

डॉक्टर भी चकित

गाजियाबाद (Ghaziabad) के नेहरुनगर (Nehru Nagar) स्थित यशोदा हॉस्पिटल (Yashoda Hospital) के डॉक्टर शशि अरोरा और डॉक्टर सचिन दुबे के निर्देशन महिला का सफल ऑपरेशन हुआ। दोनों डॉक्टरों का दावा है कि हॉस्पिटल का यह ऐसा पहला केस है। अब जच्चा और उनके चारों बच्चे सुरक्षित हैं। चार बच्चों में एक लड़की व 3 लड़के हैं।

सोशल मीडिया में लाभ लेने को लेकर सवाल

बच्चो के जन्म के बाद सोशल मीडिया में ज्यादातर यूजर्स ने यही पूछा है कि इस परिवार को अब सरकारी योजनाओं का लाभ मिलेगा अथवा नहीं। हालांकि, बताया जा रहा है कि जनसंख्या नीति (Population Control Policy) में जुड़वां बच्चों के लिए विशेष छूट दी गई है।

क्या है आईवीएफ तकनीक ?

इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (In-vitro Fertilization) को पहले ’टेस्ट-ट्यूब बेबी’ (Test Tube Baby) के नाम से जाना जाता था। आईवीएफ ट्रीटमेंट में प्रयोगशाला में कुछ नियंत्रित परिस्थितियों में महिला के एग्स और पुरुष के स्पर्म को मिलाया जाता है। जब संयोजन से भ्रूण बन जाता है, तब उसे वापस महिला के गर्भाशय में रख दिया जाता है।

Next Story
Share it