vindhyacoronabulletin/bandhavgarh .jpg

UMARIA : बांधवगढ़ रिजर्व पार्क के खुलने पर संशय बरकरार

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
28 Apr 2021

उमरिया। जिस तरह से कोरोना ने रफ्तार पकड़ रखी है उससे बांधवगढ़ रिजर्व टाइगर के गेट खुलने पर संशय के बादल मंडरा रहे हैं। अभी फिलहाल पांच दिनों के लिए ही रिजर्व टाइगर के गेट बंद किये गये हैं लेकिन माना जा रहा है कि मई में स्थिति का आंकलन किया जाएगा और यदि स्थिति अनुकूल हुई तो ही पार्क पर्यटकों के लिए खुलेगा अन्यथा पार्क को बंद रखने का समय कुछ दिनों के लिए एक बार फिर बढ़ा दिया जाएगा।

पिछले सात महीने में एक लाख पर्यटक भी बांधवगढ़ नहीं पहुंचे। सात महीनों में लगभग84000 पर्यटकों के यहां पहुंचने का एक आंकड़ा सामने आया है। पर्यटकों से साढ़े नौ करोड़ की आय पर्यटन को हुई है। आपको बता दें कि पिछले साल अक्टूबर में पार्क खोला गया था और अगर सबकुछ ठीक चलता तो अभी पार्क अगले दो महीने यानी जून के आखिर तक खुला रहता और 1 जुलाई से बंद होता लेकिन कोरोना के कहर ने पार्क और पर्यटन पर भी अपने नजर लगा दी। पिछले सात महीने से पार्क खुला हुआ जरूर था लेकिन दिसम्बर और जनवरी को छोड़ दिया जाए तो यहां पर्यटन की स्थिति अच्छी नहीं थी।

वाहन चालक व गाइडों के सामने संकट

कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में सोमवार से कोर एवं बफर के सभी प्रवेश द्वारों से पर्यटन गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है। प्रदेश के अन्य टाइगर रिसर्व में पहले से ही पर्यटन प्रतिबंधित किया जा चुका है । प्रधान मुख्य वन सरंक्षक वाइल्ड लाइफ के निर्देशानुसार 26 अप्रैल से पार्क में पर्यटन गतिविधयों पर रोक लगाई गई है ।

एक वर्ष पूर्व भी कोरोना के बढ़ते प्रभाव के कारण मार्च 2020 से पार्क में पर्यटन गतिविधियां बंद हुई थी, जिसका पर्यटन कारोबार से जीविका यापन करने वाले मजदूरोंए वाहन चालकों, गाइडों और छोटे कारोबारियों की आजीविका पर प्रतिकूल असर पड़ा था ।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER