vindhyacoronabulletin/umaria 1 .jpg

उमरिया कलेक्टर शराब खरीदने दुकान पहुंचे, फिर 80 पेटी शराब जब्त कर सील की दुकान

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
27 Apr 2021

उमरिया। कोरोना महामारी के बीच चल रहे लाॅकडाउन के बावजूद शराब की अवैध रुकने का नाम नहीं ले रही है और आबकारी विभाग हाथ पर हाथ धरे बैठा है। लगातार मिल रही शिकायतों के बाद जिला कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने जो कदम उठाया वह सभी को हतप्रभ कर देने वाला था। कोई सोच भी नहीं सकता था कि कलेक्टर खुद ग्राहक बनकर शराब खरीदने आयेंगे।

आपको बता दें कि लाॅकडाउन के चलते अवैध शराब की बिक्री बढ़ गई है। प्रशासन द्वारा शराब की बिक्री पर रोक लगाए जाने के बाद भी अवैध शराब तस्करी रुकने का नाम नहीं ले रही है। इन मामलों की शिकायत आबकारी विभाग के साथ ही पुलिस से भी की गई लेकिन कार्यवाही नहीं हो सकी। जब इस बात की जानकारी कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव को हुई तो वह स्वयं ग्राहक बनकर शराब खरीदने पहुंच गये और फिर 80 पेटी शराब जब्त करते हुए दुकान सील करने की कार्यवाही की।

अज्ञात व्यक्ति की सूचना पर कलेक्टर ने उठाया कदम

बताया गया है कि कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव को बीते दिवस एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा सूचना दी गई कि विकटगंज उमरिया में देशी शराब के ठेके में पीछे के रास्ते शराब का अवैध व्यापार चल रहा है। इस सूचना पर कलेक्टर दल-बल के साथ रवाना हुए लेकिन उन्होंने अपने मातहतों को दूर खड़ा कर दिया और खुद ग्राहक बनकर शराब लेने पहुंच गये।

उन्होंने देशी शराब के ठेके की दुकान पर दरवाजा खटखटाया और दरवाजा खोलिए। अंदर से आवाज आई कौन, कलेक्टर ने कहा दरवाजा खोलो कुछ देना है। जैसे ही दरवाजा खुला कलेक्टर ने दबिश देते हुए 80 पेटी शराब जब्त कर ली और कमरे को सील कर दिया। इसके बाद कलेक्टर संबंधित विभाग के अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER