टेक और गैजेट्स

फिर फटा OnePlus Smartphone: वकील के गाउन से निकलने लगा धुंआ, निकाला तो ब्लास्ट हो गया ब्रांड न्यू वनप्लस नॉर्ड 2 5G

Aaryan Puneet Dwivedi
11 Sep 2021 9:02 AM GMT
फिर फटा OnePlus Smartphone: वकील के गाउन से निकलने लगा धुंआ, निकाला तो ब्लास्ट हो गया ब्रांड न्यू वनप्लस नॉर्ड 2 5G
x

फिर फटा वन प्लस नॉर्ड 2 5G स्मार्टफोन 

महीने भर पहले एक महिला के बैग में भी OnePlus Nord 2 5G स्मार्टफोन ब्लास्ट हुआ था.

प्रीमियम एंड्राइड स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरिंग कंपनी OnePlus का प्रीमियम स्मार्टफोन Nord 2 5G के एक बार फिर फटने की खबर आ रही है. अब दिल्ली के एडवोकेट गौरव गुलाटी ने स्मार्टफोन फटने की कुछ फोटोज सोशल मीडिया पर शेयर की हैं. इसके महीने भर पहले एक महिला के स्लिंग बैग में भी OnePlus Nord 2 5G के ब्लास्ट होने की खबर आई थी.

दिल्ली के एडवोकेट गौरव गुलाटी ने फोटो शेयर करते हुए बताया कि, उनका ब्रांड न्यू OnePlus Nord 2 5G स्मार्टफोन उस वक़्त फट गया जब वे कोर्ट में अपने चेंबर में बैठे हुए थें. गुलाटी के मुताबिक़ फोन उनके गाउन में रखा हुआ था. कुछ गरम और धुंए सा महसूस होने के बाद उसे निकाला. इस दौरान उनके गाउन में आग लग गई और इसके ठीक बाद मोबाइल भी ब्लास्ट हो गया. फोन के फट जाने से पूरा चेंबर धुआं-धुआं हो गया था.



OnePlus Nord 2 5G के फटने का मामला सामने आने के बाद कंपनी ने ट्विटर पर कहा कि, कुछ दिन पहले एक व्यक्ति ने हमें ट्विटर पर वनप्लस नॉर्ड 2 5G में हुए कथित विस्फोट के बारे में बताया था. हमारी टीम तुरंत उस व्यक्ति के पास उसके दावे की हकीकत जानने के लिए पहुंच गई. हम इस तरह के हर दावे को यूजर्स की सुरक्षा के लिहाज से बहुत गंभीरता से लेते हैं.

क्यों फट जाती है मोबाइल की बैटरी?

वनप्लस नॉर्ड 2 5G के फटने का कारण सामने नहीं आया है, लेकिन मुंबई के आईटी एक्सपर्ट मंगलेश एलिया ने बताया चार्जिंग के समय मोबाइल के आसपास रेडिएशन हाई रहता है. इस कारण भी बैटरी गरम हो जाती है. इसलिए यह चार्जिंग के वक्त बात करने पर ब्लास्ट हो सकती है. कई बार यूजर्स की गलतियों की वजह से भी बैटरी ओवरहीट होकर फट जाती है. बैटरी के सेल डेड होते रहते हैं जिससे फोन के अंदर के केमिकल में चेंजेस होते हैं और बैटरी फट जाती है.

ये संकेत इग्नोर न करें वरना फट सकता है स्मार्टफोन

  • फोन बार-बार हैंग होना और प्रोसेसिंग स्लो हो जाना.
  • फोन की स्क्रीन का ब्लर होना या स्क्रीन में पूरी तरह डार्कनेस आ जाना.
  • बात करते वक्त फोन नॉर्मल से ज्यादा गर्म होना.

ऐसी गलतियां कभी न करें

  • फेक चार्जर, फेक बैटरी का यूज कभी न करें. जिस ब्रांड का फोन यूज कर रहे हैं, उसी का चार्जर यूज करें.
  • मोबाइल को किसी भी गर्म जगह पर रखकर चार्ज करने से बैटरी तेजी से गर्म होने लगती है. ऐसा बार-बार करने से बैटरी और मोबाइल जल्दी खराब होने की आशंका बढ़ जाती है.
  • पानी में भीगे फोन को चार्जिंग पर न लगाएं. फोन चार्ज करते वक्त उसका यूज न करें.
  • पूरी रात मोबाइल चार्जिंग पर लगाकर छोड़ देने से बैटरी जल्दी खराब होने लगती है. इसका पूरे मोबाइल की परफॉर्मेंस पर भी बुरा असर पड़ सकता है.
  • बैटरी डैमेज हो गई है तो उसे तुरंत फ्रेश बैटरी से एक्सचेंज कर दें.
  • मोबाइल को 100% चार्ज न करें. अगर आप 100% चार्ज करते हैं तो इससे बैटरी खराब होने का खतरा बढ़ जाता है.
  • मोबाइल की बैटरी 80 से 85% तक चार्ज करना सही माना जाता है.

इन बातों का भी विशेष ध्यान रखें

  • फोन चार्जिंग पर लगाकर म्यूजिक सुनने या यूज करने से दुर्घटना होने के कई मामले सामने आ चुके हैं. जिसमें यूजर की जान तक जा चुकी है. इसलिए कभी भी चार्जिंग के दौरान फोन का इस्तेमाल न करें.
  • कभी भी स्मार्टफोन को अपने एकदम पास रखकर न सोएं. एक्सपर्ट्स भी कह चुके हैं कि मोबाइल डिवाइसेज नजदीक होने से ब्रेन सिग्नल में बाधा पहुंचती है इससे नींद अच्छे से नहीं आती.
  • जहां सूरज की किरणें सीधे आ रही हों या गर्मी वाली जगह जैसे कार के डैशबोर्ड पर मोबाइल को रखकर चार्ज न करें. इससे टेम्परेचर बढ़ने के कारण बैटरी ब्लास्ट हो सकती है.
  • कई बार हम तकिया के नीचे फोन चार्ज पर लगाकर छोड़ जाते हैं, इससे भी हीट की प्रॉब्लम हो सकती है और आग तक लग सकती है.
  • स्मार्टफोन को पावर स्ट्रिप एक्सटेंशन बोर्ड से चार्ज न करें तो बेहतर होता है.
  • चार्ज करते समय स्मार्टफोन से कवर को अलग कर देना चाहिए. केस हीट को फैलने से रोकता है.
Next Story
Share it