टेक और गैजेट्स

क्यों हो रहे परेशान इस तरह कराये रेलवे टिकट बुक मिल रही है भारी छूट

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:57 AM GMT
क्यों हो रहे परेशान इस तरह कराये रेलवे टिकट बुक मिल रही है भारी छूट
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

नई दिल्ली : यदि आप डिजिटल पेमेंट माध्यमों को अपना चुके हैं तो रेल टिकट बुक करने में आपको कई लाभ मिल सकते हैं. रेलवे ने भारत सरकार की ओर से जारी भीम ऐप (भारत इंटरफेस फॉर मोबाइल) व यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) के जरिए टिकट की बुकिंग पर किराए में छूट देने की घोषणा की है. वहीं आपको ऑनलाइन बुकिंग के कई अन्य फायदे भी मिल सकते हैं. इन फायदों के बारे में आम लोगों को जागरूक करने के लिए रेलवे भारत सरकार की ओर से घोषित 100 स्मार्ट शहरों में 31 जुलाई तक विशेष अभियान चलाएगा. रेलवे का प्रयास है कि स्मार्ट शहरों में अधिकतम पेमेंट डिजिटल माध्यम से किया जाए.

इतने फीसदी की मिलेगी छूट भीम ऐप (भारत इंटरफेस फॉर मोबाइल) व यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) के जरिए टिकट की बुकिंग पर किराए में 05 फीसदी या अधिकतम 50 रुपये तक की छूट मिल सकती है. वहीं आरक्षित टिकट की कीमत के से कम 100 रुपये होने पर ही किराए में छूट का लाभ मिल सकेगा. क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से टिकट का डिजिटल पेमेंट करने पर किराए पर छूट नहीं मिलेगी.

स्लीपर के किराए में करें एसी की यात्रा रेलवे की योजना के तहत यदि उच्च श्रेणी में सीटें खाली होती हैं तो निचली श्रेणी के यात्री को उसमें अपग्रेड कर दिया जाता है. उदाहरण के तौर पर यदि कोई यात्री स्लीपर की टिकट लेता है और 3 एसी में सीटें खाली हैं तो स्लीपर के किराए में उस यात्री को 3 एसी में अपग्रेड कर दिया जाता है. रेलवे कीनई योजना के तहत यदि कोई यात्री भीम या यूपीआई ऐप से डिजिटल पेमेंट कर के टिकट खरीदता है तो उसे इस योजना के तहत प्राथमिक्ता के आधार पर अपग्रेड किया जाएगा.रेलवे स्मार्ट शहरों में 31 जुलाई तक अधिक से अधिक लोगों को डिजिटल पेमेंट के लिए प्रेरित करेगा. इसके लिए बड़े पैमानो पर अभियान चलाया जाएगा. इस अभियान के जरिए प्रतिदिन डिजिटल पेमेंट की संख्या कितनी बढ़ी इसकी दैनिक रिपोर्ट मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रानिक्स एंड इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी को भी भेजी जानी है. जिससे सरकार यह आंकलन करेगी कि स्मार्ट शहरों में लोग कितना डिजिटल हो गए हैं और उन्हें डिजिटल बनाने के लिए कितना और काम करने की जरूरत है.

Next Story
Share it