टेक और गैजेट्स

अब रेलवे टिकट कैंसिल कराया तो तुरंत मिलेगा ये

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:54 AM GMT
अब रेलवे टिकट कैंसिल कराया तो तुरंत मिलेगा ये
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

रेलवे टिकट कैंसिल कराने पर रिफंड के लिए अक्सर 4 से 10 दिन तक इंतजार करना पड़ता है। लेकिन जल्द ही इस समस्या से आपको जूझना नहीं होगा। IRCTC अपना पेमेंट गेटवे iPay ला रहा है। इसके जरिए किसी भी Bank, Wallet या UPI से टिकट आसानी से बुक हो पाएगा। साथ ही अगर आप टिकट कैंसिल करते हैं तो पैसा रिफंड के लिए लंबा इंतजार नहीं करना होगा। पैसा आपके अकाउंट में रियल टाइम में जमा होगा। आईआरसीटीसी ने पेमेंट गेटवे लाने की घोषणा अपने ट्विटर हैंडल से की है।

18 अगस्त से IRCTC-iPay काम करना शुरू करेगा आईआरसीटीसी का अपना पेमेंट गेटवे आईआरसीअीसी-आईपे अगस्त महीने तक irctc.co.in पर उपलब्ध होगा। यह वॉलेट क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, इंटरनेशनल कार्ड, ऑटो डेबिट, यूपीआई, वॉलेट आदि जैसे सभी भुगतान विकल्प को जोड़ने की सुविधा देगा। रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि यह वॉलेट अधिकांश बैंक और पेमेंट गेटवे से जुड़ा होगा। इसके चलते इससे टिकट रिफंड का पैसा लौटाने में समय नहीं लगेगा। टिकट कैंसिल होने के साथ पैसा यात्री के अकाउंट में पहुंच जाएगा।

अभी छह BANK ही सूचीबद्ध मौजूदा समय में आईआरसीटीसी के साथ सिर्फ छह बैंक ही सूचीबद्ध है। यानी आप ऑनलाइन टिकट की बुकिंग इन्हीं बैंक के डेबिट-क्रेडिट कार्ड के जरिए कर सकते हैं। ये हैं भारतीय स्टेट बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, केनरा बैंक, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया। अगर किसी के पास इन छह में से किसी भी बैंक का अकाउंट नहीं है तो उसे थर्ड पार्टी भेंडर के जरिए भुगतान करना होता है।

पहले बुक करें बाद में पैसा दें आईआरसीटीसी ने पिछले साल 'बुक नाउ ऐंड पे लेटर' विकल्प की शुरुआत की थी, जिसकी मदद से यात्री यात्रा से 5 दिन पहले टिकट बुक कर सकते हैं। 3.5 फीसदी सर्विस चार्ज के साथ भुगतान अगले 14 दिनों में करना होता है।

रेलवे से जुड़े 250 MOBILE APP उपलब्ध गूगल प्लेस्टोर पर रेलवे से जुड़े सर्विस देने के लिए करीब 250 एप उपलब्ध हैं। इनमें से, करीब 50 मोबाइल एप रेलवे द्वारा बनाए गए हैं। वहीं शेष निजी कंपनियों और व्यक्तियों द्वारा विकसित किए गए हैं।

Next Story
Share it