टेक और गैजेट्स

अब एक बार में केवल इतने लोगों को फॉरवर्ड होंगे Whatsapp मैसेज, जानिए और क्या बदला

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:58 AM GMT
अब एक बार में केवल इतने लोगों को फॉरवर्ड होंगे Whatsapp मैसेज, जानिए और क्या बदला
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

नई दिल्ली। फेसबुक के स्वामित्व वाले मैसेजिंग ऐप 'व्हाट्सएप' ने बुधवार को बताया कि उसने करीब 20 करोड़ भारतीय यूजर्स के लिए मैसेज फॉरवर्ड करने की सीमा पांच चैट्स तक सीमित कर दी है।

फर्जी खबरों और उकसाने वाली सामग्री के प्रसार पर लगाम लगाने के मकसद से यह कदम उठाया गया है। हालांकि वैश्विक स्तर पर मैसेज फॉरवर्ड करने की यह सीमा 20 चैट्स तक है। कंपनी ने बुधवार को एक बयान जारी कर बताया, "व्हाट्सऐप के वर्तमान संस्करण का इस्तेमाल कर रहे भारत के लोगों के लिए इस हफ्ते से यह सीमा दिखाई देनी शुरू हो चुकी है।"

इस कदम के अलावा व्हाट्सएप ने फेसबुक पर हिंदी और अंग्रेजी में एक नया वीडियो भी जारी किया है, ताकि यूजर्स को फर्जी खबरों और अफवाहों की पहचान के प्रति शिक्षित किया जा सके। इसमें 'फॉरवर्ड' लेबल के महत्व के साथ-साथ यूजर्स से कहा गया है कि वे मैसेज फॉरवर्ड करने से पहले उसके तथ्यों को दो बार जांच लें, खासकर तब जबकि उन्हें यह न पता हो कि संबंधित मैसेज मूलतः किसका है।

कंपनी का कहना है कि नए बदलाव के बावजूद व्हाट्सएप वैसा ही (प्राइवेट मैसेजिंग ऐप) बना रहेगा जैसा इसे डिजाइन किया गया था और इसका मूल्यांकन लगातार जारी रहेगा।

कंपनी आपकी सुरक्षा और निजता के लिए प्रतिबद्ध है, इसलिए व्हाट्सएप एंड टू एंड इनक्रिप्टेड है। इस फीचर की तरह कंपनी लगातार अपने ऐप में सुधार करती रहेगी। कंपनी ने यह भी बताया कि दुनिया के किसी अन्य देश के मुकाबले भारत के लोग मैसेज, फोटो और वीडियो ज्यादा फॉरवर्ड करते हैं।

सरकार ने मांगी थी जानकारी

लोकसभा में बुधवार को इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री एसएस अहलूवालिया ने बताया कि सरकार ने व्हाट्सएप से उन कदमों के बारे में जानकारी मांगी है, जो उसने फर्जी खबरों से निपटने के लिए उठाए हैं। साथ ही उन्होंने साफ किया कि नागरिकों के मैसेजों की निगरानी करने की सरकार की कोई योजना नहीं है।

Next Story
Share it