T20 World Cup 2021

वक्त बदल दिया, जज्बात बदल दिए! कैच ड्राप के बाद, वेड ने 3 छक्के लगाकर पाकिस्तान को T20 WC के टूर्नामेंट से बाहर कर दिया

Aaryan Puneet Dwivedi
12 Nov 2021 4:42 AM GMT
वक्त बदल दिया, जज्बात बदल दिए! कैच ड्राप के बाद, वेड ने 3 छक्के लगाकर पाकिस्तान को T20 WC के टूर्नामेंट से बाहर कर दिया
x
क्रिकेट की पुरानी कहावत है 'कैच ड्राप, मैच ड्राप'. ऐसा ही कुछ T20 WC के सेमीफाइनल में पाकिस्तान के साथ हुआ, वेड ने पाक के मुँह से जीत छीन ली.

PAKISTAN VS AUSTRALIA ICC T20 SEMI-FINAL : क्रिकेट की दुनिया में एक बहुत पुरानी कहावत है जो आज भी लागू होती है 'कैच ड्राप, मैच ड्राप'. ऐसा ही एक कैच ड्राप होने से पाकिस्तान टूर्नामेंट से ही बाहर हो गई. दरअसल, टी20 विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में कुछ ऐसा ही देखने को मिला था. जब ऑस्ट्रेलिया की पारी के दौरान हसन अली ने एक ऐसा कैच ड्रॉप किया, जिसका मलाल शायद उनको जीवनभर रहेगा.

कैच ड्राप, मैच ड्राप

मैच में टॉस हारकर पहले खेलते हुए पाकिस्तान ने 4 विकेट के नुकसान पर 176 रनों का स्कोर बनाया. कंगारू टीम के सामने 177 रनों का टारगेट था और अंतिम 12 गेंदों पर टीम को 22 रनों की दरकार थी. 19वां ओवर शाहीन अफरीदी लेकर आए और तीसरी ही गेंद मैथ्यू वेड ने डीप मिड विकेट पर बड़ा शॉट लगाया. गेंद हवा में थी और हसन अली गेंद का पीछा करते हुए भागे.

पाकिस्तानी फैंस उम्मीद लगाए बैठे थे कि अली ये कैच पकड़कर पाक के लिए जीत के रास्ते को आसान बना देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. हसन अली ने बहुत ही आसान सा कैच छोड़ दिया और ये पाकिस्तान की हार का कारण बन गया. तीसरी गेंद पर मिले जीवनदान के बाद AUS को 9 गेंदों पर 18 रनों की जरूरत थी, लेकिन वेड ने अगली 3 गेंदों पर लगातार 3 छक्के लगाकर ऑस्ट्रेलिया को दूसरी बार टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचा दिया.

बाबर ने भी कहा कैच छोड़ना रहा टर्निंग पॉइंट

ऑस्ट्रेलिया के हाथों मिली हार के बाद पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम ने भी कहा कि हसन अली का कैच ड्रॉप करना मैच का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट रहा. अगर हम वह कैच पकड़ने में सफल रहते तो मैच का परिणाम शायद कुछ और हो सकता था.

गेंद से भी फ्लॉप रहे हसन

मैच में हसन अली ने गेंदबाजी से सभी को निराश किया. टूर्नामेंट के 6 मैचों में पांच विकेट लेने वाले हसन अली ने सेमीफाइनल के चार ओवर में बिना कोई विकेट लिए 44 रन खर्च कर डाले. उनका इकोनॉमी रेट 11 का था.

Next Story
Share it