खेल

भारतीय कप्तानों में कोहली 'धोनी से भी अधिक विराट', वर्ल्ड कप जिताकर रचेंगे इतिहास

Aaryan Puneet Dwivedi
16 Sep 2021 6:37 PM GMT
भारतीय कप्तानों में कोहली धोनी से भी अधिक विराट, वर्ल्ड कप जिताकर रचेंगे इतिहास
x

विराट कोहली बनाम एमएस धोनी

सभी भारतीय कप्तानों में विराट कोहली की कप्तानी का सक्सेस रेट सबसे ऊपर है. सभी ICC ट्रॉफी भारत की झोली में डालने वाले धोनी भी इस मामले में कोहली से पीछे हैं.

गुरुवार को अचानक से विराट कोहली (Virat Kohli) ने सोशल मीडिया में पोस्ट कर टी20 से कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया. साथ ही उन्होंने कप्तानी रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को सौंपने की सिफारिश भी की है. विराट की कप्तानी में भारतीय टीम के हाथ भले ही अभी तक कोई बड़ी ट्रॉफी न आई हो लेकिन कोहली भारतीय कप्तानों में सबसे 'विराट' कप्तान साबित हुए.

विराट कोहली की कप्तानी में इंटरनेशनल क्रिकेट में टीम की जीत का सक्सेस रेट 63.41% रहा है, इस मामले में वे दुनिया के महानतम कप्तानों में से एक माने जाने वाले एमएस धोनी से भी 10% आगे हैं. धोनी की कप्तानी में इंटरनेशनल क्रिकेट में टीम की जीत का सक्सेस रेट 53.62% रहा है. यानि कप्तानी की बात करें तो टीम को जीत दिलाने के मामले में कोहली, धोनी से कहीं आगे हैं.

बतौर कप्तान भले ही विराट कोहली के हांथ कोई बड़ा खिताब न लगा हो. लेकिन मौजूदा समय में टीम इंडिया को ऊंचाइयों तक पहुंचाने में उन्होंने बड़ी भूमिका निभाई है. 2017 में विराट के हाथ लिमिटेड ओवर की कमान दी गई थी.

T20 में विराट कोहली और धोनी की कप्तानी

विराट कोहली: 45 T20 मैचों की कप्तानी कर चुके हैं. जिसमें से 25 मैचों में टीम इंडिया को जीत एवं 14 मैचों में टीम को हार का सामना करना पड़ा है. 2 मुकाबले टाई एवं दो मुकाबले बेनतीजा रहें हैं. विराट की कप्तानी में भारत के जीत का प्रतिशत 65.11% रहा है.

एमएस धोनी: 72 T20 मैचों की कप्तानी कर चुके हैं. जिसमें से 41 मैचों में टीम इंडिया को जीत एवं 28 मैचों में टीम को हार का सामना करना पड़ा है. 1 टाई एवं दो मुकाबले बेनतीजा रहें हैं. धोनी की कप्तानी में T20 में भारत के जीत का प्रतिशत 59.28% रहा है.

ODI में विराट और धोनी की कप्तानी

विराट कोहली: वनडे (ODI) फॉर्मेट में कोहली ने 95 मैचों में टीम की कमान संभाली और 65 मुकाबले जीतने में सफल रहे. 27 मैचों में टीम को हार मिली और एक टाई रहा व 2 का नतीजा नहीं आया. वनडे में विराट की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 70.43% रहा है.

एमएस धोनी: वहीं, धोनी ने 220 वनडे मैचों में टीम की कप्तानी संभाली जिसमें से उन्होंने 110 मुकाबले जिताने में सफल रहें, जबकि 74 मैचों में टीम को हार मिली और 5 टाई रहा व 11 का नतीजा नहीं आया. वनडे में एमएस धोनी की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 59.52% रहा है.

टेस्ट में विराट और धोनी की कप्तानी

विराट कोहली: टेस्ट फॉर्मेट में कोहली ने 65 मैचों की टीम की कप्तानी की और 38 मैच जीतने में सफल रहे. 16 में उनको हार मिली और 11 मुकाबले ड्रॉ पर समाप्त हुए. टेस्ट मैचों में विराट की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 58.46% रहा है.

एमएस धोनी: जबकि टेस्ट फॉर्मेट में धोनी ने 60 मैचों की टीम की कप्तानी की और 27 मैच जीतने में सफल रहे. 18 में उनको हार मिली और 15 मुकाबले ड्रॉ पर समाप्त हुए. टेस्ट मैचों में धोनी की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 45% रहा है.

धोनी से आगे कोहली

ओवरआल कप्तानी के मामले में विराट कोहली, एमएस धोनी से हर फॉर्मेट में कहीं आगे रहें हैं. कोहली की कप्तानी में भारत ने कुल 205 मैच खेले हैं, जिनमे से 130 मैचों में जीत एवं 57 मुकाबलों में हार हुई है. जबकि 3 टाई एवं 11 ड्रा रहें हैं. जबकि एमएस धोनी ने 332 मैचों में कप्तानी का जिम्मा संभाला और 178 में जीत, जबकि 120 में हार मिली. 15 मुकाबले ड्रॉ और 6 टाई रहे.

कप्तानी के बेहतरीन गुण

हांलाकि कप्तान और एक खिलाड़ी के तौर पर उनका सफर अभी काफी लंबा है, उन्होंने टी20 की कप्तानी छोड़ी है. वनडे और टेस्ट में वे कप्तान बने रहेंगे. अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के बाद कोहली भारत के खाते में एक और वर्ल्ड कप लाकर इतिहास रचने की तैयारी कर रहें हैं और ये सब गुण उनकी कप्तानी में मौजूद भी हैं और उनकी टीम में किसी भी टीम को पटखनी देखर खिताब अपने नाम करने की पूरी क्षमता है.

Next Story
Share it