अध्यात्म

Somvar Ke Upaye : वैशाख मास के सोमवार हैं बहुत ही फलदाई, ऐसे करें भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न

Sandeep Tiwari
3 May 2021 11:24 AM GMT
Somvar Ke Upaye : वैशाख मास के सोमवार हैं बहुत ही फलदाई, ऐसे करें भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न
x
Somvar Ke Upaye / somvar ko kaise pooja kare : वैशाख मास भगवान नारायण को प्रसन्न करने के लिए बहुत ही शुभ और फलदाई माना जाता है। लेकिन इस माह में भगवान भोलेनाथ शिव शंकर केा भी बहुत ही आसानी से प्रसन्न किया जा सकता है। इसका सबसे बड़ा कारण यह माना जता है कि भगवान भोलेनाथ श्री नारायण भगवान विष्णु का अपना इष्ट मानते हैं तो वहीं श्री भगवान विष्णु भोलेनाथ को अपना इष्ट मानकर पूजा करते हैं। ऐसे में वैशाख मास के सोमवार को भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न करने का विशेष समय बताया गया है।

Somvar Ke Upaye : वैशाख मास भगवान नारायण को प्रसन्न करने के लिए बहुत ही शुभ और फलदाई माना जाता है। लेकिन इस माह में भगवान भोलेनाथ शिव शंकर केा भी बहुत ही आसानी से प्रसन्न किया जा सकता है। इसका सबसे बड़ा कारण यह माना जता है कि भगवान भोलेनाथ श्री नारायण भगवान विष्णु का अपना इष्ट मानते हैं तो वहीं श्री भगवान विष्णु भोलेनाथ को अपना इष्ट मानकर पूजा करते हैं। ऐसे में वैशाख मास के सोमवार को भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न करने का विशेष समय बताया गया है।

शिवलिंग पर जलधारा

बताया गया है कि भगवान भोलेनाथ को वैशाख माह के सोमवार को जलधारा लगाई जाती है। इससे भगवान भोलेनाथ बहुत प्रसन्न होते हैं। ऐसे में चाहिए के जहां भी भगवान भोलेनाथ का शिवलिंग विराजमान है और लोग वहां पूजा करने जाते हैं वहां जलधारा अवश्य लगानी चाहिए। इस वैशाख मास में तेज गर्मी पडती हैं। ऐसे में भगवान भोलेनाथ को ठंडक के लिए जलधारा से गिरने वाला बूंद-बूंद जल शिव सम्भू को शीतलता प्रदान करता है।

हर बूंद पानी समसस्यांए बह जाती हैं

मान्यता है कि जिस तरह बूंद-बूंद पानी शिवलिंग पर गिरता है, उसी तरह हर बूंद के साथ जीवन की समस्याएं भी पानी की तरह बहकर दूर होती जाती हैं। इसलिए वैशाख मास में भगवान भोलेनाथ पर जलधार अवश्य चढ़ानी चाहिए। भगवान भोलेनाथ को जलधारा अत्यंत प्रिय है।

देते हैं मनचाहा वर

बैसाख मास में भगवान शिव की पूजा के लिए भी विशेष माना गया है। माना जाता है कि इस महीने में भगवान शिव की पूजा करने से वह जल्द खुश होकर अपने भक्तों को मनचाहा वर देते हैं।

सुहागन और कुवारी करें पूजा

कहा जाता है वैशाख मास के सोमवार को भगवान भोलेनाथ को केशर मिलाकर जल से स्नान करवाने से विवाह में आ रही परेशानियां समाप्त हो जाती हैं। वही शादीशुदा जिंदगी से जुड़ी समस्याएं खत्म होती हैं। कहा गया है कि इस सोमवार को सुहागिन महिलाओें को सुहाग से जुडी चीजों का सुहागिन कन्याओं को दान करना चाहिए। ऐसा करने से भगवान भोलेनाथ के आर्शीवाद से उसका सुहाग अटल होता है।

Next Story
Share it