अध्यात्म

सुखद संयोग: रवि पुष्प योग में मनेगी रामनवमी, सभी तरह से लाभकारी

ramnavmi pushy nakshatra
x
रामनवमी का पर्व रविवार को रवि पुष्प नक्षत्र में मनाया जा रहा है

रामनवमी, Kyun Shubh Hai Pushya Nakshatra: इस वर्ष रामनवमी का पर्व रवि पुष्य नक्षत्र में मनाया जा रहा हैं। ज्योतिषाचायों का कहना है कि यह नक्षत्र हर क्षेत्र में लाभ पहुचाने वाला है। इतना ही नही नवरात्र एवं रामनवमी में भूमि-भवन और वाहनों की खरीदी-बिक्री शुभ मानी जाती है। इस वर्ष तिथियों में घट-बढ़ नही होने से नवरात्रि भी काफी फलदायी रही है।

चौबीस घंटे रहेगा शुभ योग

ज्योतिषाचार्य रवि पुष्य का जो योग बन रहा है ऐसा शुभ संयोग 1 अप्रैल 2012 को बना था। जब रवि पुष्य योग पर चैत्र नवरात्र खत्म हुए थे। 10 अप्रैल, रविवार को सूर्योदय के साथ पुष्य नक्षत्र शुरू होगा, जो अगले दिन सूर्योदय तक रहेगा, यानि कि पूरे 24 घंटे फल दायी रहेगा। ये खरीदारी का अबूझ मुहूर्त भी होगा। इसके बाद 6 अप्रैल 2025 को फिर ऐसा शुभ योग बनेगा।

अष्टमी-नवमी शुभ

पुरी के ज्योतिषाचार्यो का कहना है कि चैत्र नवरात्र की प्रतिपदा, अष्टमी, नवमी तिथि नई शुरुआत और खरीदी-बिक्री के लिए शुभ होती है। अश्विनी, रोहिणी, मृगशिरा और पुष्य नक्षत्र खरीदारी के लिए शुभ माने जाते हैं। 10 अप्रैल, रविवारः सर्वार्थसिद्धि, रवि पुष्य और रवियोग होने से हर तरह के शुभ काम के लिए ये दिन अबूझ मुहूर्त रहेगा।

Next Story