अध्यात्म

महाशिवरात्रि 2021: ऐसे करें शिवलिंग की पूजा, ये चीजें को चढ़ाना है वर्जित

Manoj Shukla
11 March 2021 7:52 AM GMT
महाशिवरात्रि 2021: ऐसे करें शिवलिंग की पूजा, ये चीजें को चढ़ाना है वर्जित
x
गुरूवार 11 मार्च को देशभर में महाशिवरात्रि का पर्व बड़े उल्लासपूर्वक मनाया रहा हैं। इस दिन शिव भक्त भोलेनाथ की विधि-विधान से पूजा-अर्चना करते हैं। महाशिवरात्रि के एक दिन पहले से शिव मंदिरों में कीर्तन आदि की शुरूआत होती हैं।

गुरूवार 11 मार्च को देशभर में महाशिवरात्रि का पर्व बड़े उल्लासपूर्वक मनाया रहा हैं। इस दिन शिव भक्त भोलेनाथ की विधि-विधान से पूजा-अर्चना करते हैं। महाशिवरात्रि के एक दिन पहले से शिव मंदिरों में कीर्तन आदि की शुरूआत होती हैं। ऐसे में चलिए जानते है कैसे शिवलिंग की पूजा करें और किन चीजों को भगवान भोलेनाथ को अर्पित करना शास्त्रों वर्जित बताया गया है।

ऐसे करें भोलेबाबा को प्रसन्न

महाशिवरात्रि के दिन भगवान भोलेबाबा को प्रसन्न करने के लिए शास्त्रों में विधि पूर्वक पूजन-अर्चन करने की परम्परा बताई गई है। इस दिन भगवान शिव की पूजा-अर्चना करने से भगवान भोलेनाथ प्रसन्न होते है और उन्हें शुभ फल प्रदान करते हैं। भोलेबाबा को प्रसन्न करने के लिए सर्वप्रथम दूध से भोलेबाबा को स्नान कराएं। फिर उन्हें जल, यज्ञोपवीत, चंदन, वस्त्र, आभूषण, बेलपत्र, कनेर, सुंगधी, धूतरा, मदार, ऋतुपुष्प, नैवेद्य अर्पित करें। तदुपरांत पूर्व एवं उत्तर दिशा की ओर मुख करके उन्हें धूप, दीप दिखाकर पूजन शुरू करें। भक्त को शिव के समक्ष दीप जलाकर मस्तक में त्रिपुंड और चंदन-रोली का तिलक लगाना चाहिए। इसके बाद मंत्रोच्चार के बीच विधि-विधान से भगवान शिव की आराधना करना चाहिए।

ये चीजें चढ़ानी है वर्जित

महाशिवरात्रि के दिन भगवान भोलेबाबा को कुछ चीजें चढ़ानी वर्जित हैं। मान्यता है कि इन चीजों को भोलेबाबा को अर्पित करने से शुभ फल की प्राप्ति नहीं होती हैं। ऐसे में इन चीजों को बिल्कुल भी नहीं चढ़ाना चाहिए। सबसे पहले तुलसी, तिल, टूटे हुए चावल, कुमकुम, नारियल का पानी, शंख, केतकी का फूल। इन सभी चीजों को भगवान भोलेनाथ से दूर रखना चाहिए।


Next Story
Share it