2021/03/Good_Friday.jpg

Good Friday 2021 : जानिए क्यों मनाया जाता है गुड फ्राइडे

RewaRiyasat.Com
Manoj Shukla
31 Mar 2021

Good Friday 2021 : नई दिल्ली। इस साल गुड फ्राइडे पर्व 2 अप्रैल को मनाया जाएगा। यह त्यौहार ईसाई धर्म के लोगों के लिए बेहद ही खास हैं। क्रिसमस के बाद यह दूसरा सबसे बड़ा पर्व ईसाई धर्म के लिए माना जाता हैं। इस पर्व को कई जगह अलग-अलग नामों से भी जाना जाता है। कुछ जगह इसे होली फ्राइडे कहा जाता है तो कई जगह इसे ग्रेट फ्राइडे भी कहा जाता है। 

क्यों मनाया जाता है गुड फ्राइडे

गुड फ्राइडे का पर्व खुशी का पर्व नहीं हैं। इस दिन ईशा मसीह को शूली पर चढ़ाया गया था। ईशा मसीह को शूली पर चढ़ाने के तीन दिन बाद वह जिंदा हो उठे थे। जिसकी खुशी में ईसाई धर्म के लोग ईस्टर संडे को उत्साहपूर्वक मनाते हैं। गुड फ्राइडे का पर्व ईसाई धर्म के लिए शोक का पर्व है। ऐसे में कई लोगों के मन में यह सवाल उठता है कि गुड फ्राइडे कैसे हो सकता है। लेकिन इसके पीछे ईसाई धर्म के लोग मानते हैं कि इस प्रभु ईसा मसीह ने लोगों की भलाई के लिए हंसते-हंसते अपने प्राण न्यौछावर कर दिए थे। इसलिए इस दिन को गुड यानी कि अच्छा कहकर सम्बोधित किया जाता हैं। इसलिए इस पर्व को गुड फ्राइडे के रूप में मनाया जाता है। 

ऐसे पड़ा गुड फ्राइडे नाम

मान्यता है कि जिस दिन प्रभु यीशू को शूली पर चढ़ाया गया था उस दिन फ्राइडे यानी शुक्रवार था। इसी दिन फिलातुस उन्हें क्राॅस पर लटकाते हुए जान से मारने का आदेश दिया था। उन पर कई सितम ढहाए गए थे। लेकिन प्रभु यीशु उनके लिए प्रार्थना करते रहे। हे ईश्वर इन्हें माफ करना। यह नहीं जानते है वह क्या करने जा रहे हैं।

ऐसे मनाते हैं गुड फ्राइडे

गुड फ्राइडे के दिन ईसाई समुदाय के लोग चर्च में पहुंचते हैं। जहां ईसा मसीह को याद करके शोक मनाते हैं। इस दिन प्रभु यीशु की अंतिम एवं विशेष बातों की व्याख्या की जाती हैं। जो क्षमा, त्याग, सहायका, सामंजस्य आदि पर केन्द्रित होती है। 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER