2021/Chankya_niiti (1).jpg

चाणक्य नीति: गलती से भी नहीं बतानी चाहिए व्यक्ति को ये 5 बातें, नहीं तो जीवनभर होते रहेंगे अपमानित

RewaRiyasat.Com
Manoj Shukla
01 Apr 2021

आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में जीवन के हर पहलुओं पर प्रकाश डाला है। उन्होंने जीवन, स्वास्थ्य, धन, वैभव, व्यापार, मित्रता आदि सभी समस्याओं का हल बताया है। आचार्य ने अपने एक श्लोक के माध्यम से यह भी बताया कि किसी भी परिस्थिति में इंसान को जीवन की ये 5 बातें नहीं बतानी चाहिए। आचार्य का मानना है कि अगर गलती से भी व्यक्ति इन 5 बातों को लोगों से शेयर करता है या बताता है तो उसे जीवनभर अपमानित होने के लिए तैयार रहना चाहिए। तो चलिए जानते हैं किन बातों को न शेयर करने में ही मनुष्य की भलाई निहित है। 

चाणक्य नीति: गलती से भी नहीं बतानी चाहिए व्यक्ति को ये 5 बातें, नहीं तो जीवनभर होते रहेंगे अपमानित

अर्थनाश मनस्तापं गृहिण्याश्चरितानि च। 
नीचं वाक्यं चापमानं मतिमान्न प्रकाशयेत॥ 

आचार्य कहते है कि जो मनुष्य बुद्धिमान होता है वह धन के नाश होने पर, किसी के द्वारा ठगे जाने या अपमानित होने पर, मन के दुखी होने पर, घर के दोष की बातें कभी किसी से नहीं शेयर करता हैं। आचार्य कहते है कि इन बातों को मन में ही रखने में व्यक्ति की भलाई है। 

आचार्य का मनना है कि जीवन में कुछ ऐसी बातें होती है जो मन के अंदर ही रखना चाहिए। इन बातों को किसी से नहीं शेयर करना चाहिए। जिसमें धन की हानि, पत्नी द्वारा अपमान, मन में किसी बात के लिए दुखी होना, किसी नीच व्यक्ति गलत एवं घटिया बातें सुन लेना आदि शामिल हैं। आचार्य का मत है कि इन बातों को कभी दूसरे से नहीं शेयर करना चाहिए।

क्योंकि इन बातों को आप जितना लोगों के सामने कहेंगे लोग उतना ही आपका मजाक उड़ाएंगे। कोई भी व्यक्ति आपके प्रति सहानुभूति नहीं दिखाएगा। क्योंकि आपकी यह बातें निजी हैं और इन्हें गुप्त ही रखना चाहिए। अपनी ये निजी बातें किसी से शेयर करने में आप जीवनभर हंसी के पात्र ही बन सकते हैं। इसके अलावा आपको कुछ नहीं मिलने वाला है। 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER