अध्यात्म

Chaitr Navratri 2022 Upay: इस नवरात्रि में करें यह कार्य, कर्ज सहित कई समस्याओं से मिलेगी मुक्ति

Chaitra Navratri 2022
x
Chaitr Navratri 2022: अगर आप कर्ज के बोझ तले दबे हुए हैं ते अपको एक कार्य अवश्य कर लेना चाहिए।

Chaitra Navratri 2022 Upay In Hindi: अगर आप कर्ज के बोझ तले दबे हुए हैं ते अपको एक कार्य अवश्य कर लेना चाहिए। यह कार्य केवल नवरात्रि के समय किया जाता है। ऐसे में आवश्यक है कि इस नवरात्रि में यह कार्य कर लिया जाय। जानकारी के अनुसार 2 अप्रैल से नवरात्रि प्रारंभ हो रही है। नवरात्रि में मां दुर्गा की विशेष कृपा प्राप्त हो सकती है। इस कृपा को प्राप्त करने के लिए ज्योतिष शास्त्र में कई ऐसे उपाय बताए गए हैं जो नवरात्रि के समय किए जाते हैं। इन उपायों को करने से व्यक्ति गरीबी और कर्ज से छुटकारा पा जाता है।

कर्ज से छुटकारा पाने

कहा गया है कि आवश्यकता पर लिया गया कर्ज कुछ कारणों की वजह से चुकाने में परेशानी हो रही है तो नवरात्रि के समय कुछ विशेष कार्य करने से माता की कृपा प्राप्त होती है और कल से छुटकारा मिल जाता है।

बताया गया है कि नवरात्रि के पहले दिन माता के समक्ष अपनी कामना रखें और ''सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके शरण्ये त्रयंबके गौरी नारायणी नमोस्तुते'' इस मंत्र का एक माला जाप करें। मां दुर्गा के चरणों में 108 गुलाब के पुष्प अर्पित करें । इसके पश्चात सवा किलो मसूर की लाल दाल मां दुर्गा के सामने रखें और घी का दीपक जलाएं। मंत्रों का जाप पूर्ण होने के पश्चात इस दाल से अपना उतारा करें और किसी गरीब को दे दे।

नौकरी पाने

काफी समय से नौकरी की तलाश है लेकिन कोई ना कोई बाधा आ जा रही है जिससे यह मनोकामना पूर्ण नहीं हो रही है तो ''ओम हीं वागवादिनी भगवती मम कार्य सिद्ध कुरू कुरू फट स्वाहा मंत्र का एक माला जाप नियमित तौर पर 9 दिनों तक करें। अवश्य ही कार्य में सफलता प्राप्त होगी।

गरीबी दूर करने

अगर घर में गरीबी है किस्मत साथ नहीं दे रही तो अष्टमी के दिन पूजा घर में उत्तर दिशा की ओर मुंह करके बैठ जाएं और एक चावल का ढेर बनाएं। कुछ देर के ऊपर श्रीयंत्र रखकर चारों ओर नौ दीपक जलाएं। अब अपनी मनोकामना कहते हुए माता के नौ रूपों का ध्यान करें। पूजा समाप्त होने के पश्चात उस चावल को नदी में प्रवाहित कर दें। तथा श्री यंत्र को अपनी तिजोरी या धन रखने के स्थान पर रख दें।

नोट-ः उक्त समाचार में दी गई जानकारी सूचना मात्र है। रीवा रियासत समाचार इसकी पुष्टि नहीं करता है। दी गई जानकारी प्रचलित मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। ऐसे में किसी कार्य को शुरू करने के पूर्व विशेषज्ञ से जानकारी अवश्य प्राप्त कर लें।

Next Story