अध्यात्म

भगवान शनिदेव की कृपा प्राप्त करने शरीर को इस अंग में लगाएं तेल, हो जायेंगे मालामाल

भगवान शनिदेव की कृपा प्राप्त करने शरीर को  इस अंग में लगाएं तेल, हो जायेंगे मालामाल
x
शनिवार के दिन भगवान शनिदेव की पूजा आराधना करने से वह प्रसन्न होते हैं और मनचाहा वरदान भी देते हैं।

शनिवार के दिन भगवान शनिदेव की पूजा आराधना करने से वह प्रसन्न होते हैं और मनचाहा वरदान भी देते हैं। शनिदेव को कर्मफल के देवता है। इन्हे न्याय का देवता भी कहा गया है। कहने का मतलब भगवान शनिदेव हमारे कर्म के आधार पर कृपा करते है। इसके बाद भी ज्योतिषशास्त्र में कहा गया है कि अगर भगवान शनिदेव को प्रसन्न करना है ते शनिवार के दिन विशेष उपाय करने चाहिए। ऐसा करने से उनका प्रकोप कम होता है।

शरीर के इस अंग और शनिदेव का सम्बंध

एक ओर जहां बताया गया है कि हमें शनिवार के दिन भगवान श्री शनिदेव की पूजा करनी चाहिए। वहीं यह भी कहा गया है कि शरीर के कुछ अंगों में तेल लगाने से कई लाभ होते हैं। शनिवार के दिन भगवान शिनदेव को सरसों का तेल समर्पित करना चाहिए। वहीं यह भी कहा गया है कि अगर पैर या फिर घुटने में दर्द की शिकायत है ते समझ लें कि यह शनि ग्रह का प्रभाव हो सकता है।

कुडली से करें विचार

ज्योतिषशास्त्र में बताया गया है कि कुंडली में मॉैजूद 10वां और 11वां भाव कर्म फल का होता है। इस भाव में शनिदेव का निवास बताया गया है। वहीं मनुष्य के शरीर का दसवां और 11 वां भाव आपके पैर, टखने और घुटनों से संबंधित है। इनमें शुभता बढने से शनिदेव की विशेष कृपा प्राप्त होती है।

लगाना चाहिए तेल

कहा गया है कि अगर सरसों के तेल को घुटनां में लगाने से पैरों से सम्बंधित समस्या समाप्त हो जाती है। इससे शनिग्रह भी शुभ प्रभाव देता है। व्यापार में लाभ प्राप्त होता है तो वहीं पैसों से जुड़ी समस्या समाप्त होती है।

बताया गया है कि रात्रि के समय पैरों पर नारियल या फिर चंदन का तेल लगाना चाहिए। ऐसा करने से आर्थिक लाभ होता है।

तभी तो हमारे बडे़ बुजुर्ग कहते हैं कि हमें रात्रि के समय अपने पैर साफ कर बिस्तर में जाना चाहिए। वही यह भी कहा गया है कि पैरो में, घुटनों में तेल लगाना चाहिए।

मजबूत होता है शुक्र ग्रह

कहा गया है कि रात के समय पैरों के तलवे में गुलाब का इत्र लगाकर सोने से शुक्र ग्रह मजबूत होता है। साथ ही आर्थिक सम्पन्नता आती है।

व्यापार में होगा लाभ

अगर किसी जातक को व्यापार में लाभ नही मिल रहा है तो वह परेशान न हों। शनिदेव की पूजा करें अवश्य लाभ मिलेगा। बताया गया है कि शनिवार के दिन शनि चालीसा या फिर शनिस्त्रोत का पाठ करने से समस्याएं समाप्त होती हैं।

Next Story