Rewa_Riyasat/medical collage shahdol .jpg

SHAHDOL NEWS : मेडिकल काॅलेज में तीन जिलों के मरीज आश्रित, स्टाफ की कमी बन रही समस्या

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
06 Apr 2021

शहडोल। संभागीय मुख्यालय में स्थित मेडिकल कॉलेज में तीन जिलों के मरीज आश्रित हैं, लेकिन वहां पर्याप्त मेडिकल स्टाफ नहीं होने के कारण फिर से समस्या होने लगी है। कुछ माह पूर्व जब कोरोना के ज्यादा मामले सामने आ रहे थे तब पर्याप्त संख्या में मेडिकल स्टाफ की भर्ती की गई थी, लेकिन बीच में जब कोरोना के केस कम होने लगे तो जिन स्वास्थ्य कर्मचारियों को अस्थाई रूप से भर्ती किया गया तो उन्हें निकाल दिया गया। इसके बाद फिर से कोरोना के मामले एकदम से बढ़ने लगे हैं। जिस कारण जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में कोरोना मरीजों के उपचार में समस्या आने लगी है।

शहडोल, उमरिया, अनूपपुर के मरीज हो रहे भर्ती

गत दिवस के आंकड़ों के अनुसार मेडिकल कॉलेज शहडोल में 95 कोरोना मरीज भर्ती हैं, इनमें से 49 लोगों को आईसीयू में रखा गया है जबकि 9 मरीजों वेंटीलेटर पर हैं। इनमें से कुछ मरीजों की हालत गंभीर बनी हुई है। जबकि 58 मरीज जनरल वार्ड में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। मेडिकल प्रबंधन ने बताया कि यहां शहडोल के अलावा अनूपपुर और उमरिया के भी मरीज भर्ती होने के लिए आते हैं। ऐसी स्थिति में समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

मेडिकल स्टाफ की स्थिति

मेडिकल कॉलेज शहडोल में कोरोना के भीषण संक्रमण के समय मेडिकल स्टाफ की भर्ती की गई थी, उस दौरान मेडिकल में 130 लोगों को भर्ती किया गया था। जिसमें से 94 नर्स और 36 वार्ड ब्याय और आया शामिल थीं। इन कर्मचारियों से कुछ महीने कार्य कराने के बाद इन्हें निकाल दिया गया। वर्तमान समय में 94 में से 30 नर्स और 36 वार्ड ब्याय आया में से 23 कर्मचारी ही कार्यरत हैं। कम स्वास्थ्य कर्मचारी होने के कारण मेडिकल के कोरोना वार्ड में अब समस्या आने लगी है।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER