2021/04/devlon.jpg

Devlond : कोरोना से उत्पादन पर असर, बाण सागर डेम से मछुआरो ने किया किनारा, सरकार को करोड़ो की छति

RewaRiyasat.Com
Suyash Dubey
27 Apr 2021

देवलोन (Devlond News) : कोरोना के लगातार बढ़ते संक्रमण से उत्पादन पर भी असर पड़ रहा है। इसी तरह की समस्या मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में स्थित बाणसागर डेम से सामने आ रही है। जंहा कोरोना संकट के बाद मछली उत्पादन पर असर पड़ा है। डेम में मछुआरों की कमी के कारण मत्स्य आखेट नहीं हो पा रहा है।

 करोड़ो की होती हैआमदनी

बाणसागर डेम से मछली उत्पादन सरकार के लिए बड़ी आमदानी के रूप में है। जानकारी के तहत राज्य सरकार को डेम से सालाना तीस करोड़ रुपए से ज्यादा की आमदनी होती है। 

यहां की मछली कोलकाता, सिलीगुड़ी व गुवाहाटी तक भेजी जाती है। मत्स्य महासंघ के अधिकारियों के अनुसार इस बार 15 सौ मत्स्य आखेट करने वाले मछुआरों की जरूरत है। कोरोना संक्रमण के कारण कमी बनी हुई है। 
डेम के स्थित की अधिकारियों ने ली जानकारी

कोविड-19 संक्रमण के बाद उत्पन्न स्थितियों का जायजा लेने कमिश्नर राजीव शर्मा बीते दिनों बाणसागर डेम पहुंचे। अधिकारियों से डेम के पानी भराव क्षमता एवं विद्युत उत्पादन इकाई के संबंध में विस्तार से चर्चा की। 

बताया गया है कि बाणसागर डेम से वर्तमान में 2 लाख 93 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में किसानों को सिंचाई की सुविधा मुहैया कराई जा रही है। बाणसागर डेम की नहरें बन गई हैं, मझगांव लिफ्ट तथा त्योंथर केनाल लगभग बनकर तैयार है। यहां 60 मेगावाट का पॉवर प्लांट स्थापित है।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER