2021/07/53-patient.jpg

जिला अस्पताल सतना में स्ट्रेचर लापता, परिजनों के कंधे पर रोगी, बिफरे प्रभारी मंत्री

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
18 Jul 2021

Satna News / सतना न्यूज़ : सरकार स्वाथ्य पर भारी भरकम बजट खर्च कर रही हैं। इसके बाद भी रोगियों को सरकारी अस्पताल में इलाज के नाम पर दुत्कार मिलता है। रोगियों के भगवान कहे जाने वाले डाक्टर भी अपने भक्तो पर दया नही कर रहे है। आये दिन विवाद होना आम बात है। सतना आये प्रभारी मंत्री कुंवर विजय शाह जिला चिकत्सालय (Satna District Hospital) पहुंच गये। वहा अव्यवस्था देख बिफर पडे। बताया तो यहां तक जाता है कि प्रभारी मंत्री कुंवर विजय शाह (Kunwar Vijay Shah) ने जब देखा कि रोगी को वार्ड तक ले जाने के लिए परिजन अपने कंधें पर लादे हैं। वहीं रोगियों के परिजनों ने बताया कि यहां स्ट्रेचर तक नहीं मिलता। ऐसे में मंत्री विजय शाह ने कह दिया कि मरीज को सीएमएचओ मैडम के ऊपर बैठा दो।

रोगियों को स्ट्रेचर तक नसीब नहीं

जिला चिकित्सालय का हाल बद से बदतर होता जा रहा है। रोगी इलाज के लिए भटक रहे है। वहीं प्रदेश और केन्द्र सरकार शासकीय अस्पतालों को मोटा बजट खर्च कर रहे है। उसके बाद भी इलाज के लिए अस्पताल आने वाले रोगियों को स्ट्रेचर तक नसीब नही हो रहा है। रोगियों के बेहतर इलाज के लिए सरकार द्वारा जारी बजट कहा जा हरा है इसकी जानकारी नही है। हाल में दौरे पर आये प्रभारी मंत्री जिला चिकित्साल सतना पहुंच गये। 

प्रभारी मंत्री अस्पताल में फीमेल वार्ड का निरीक्षण कर लौट रहे थे। इसी दौरान उन्होने देखा कि एक परिजन रोगी को कंधे पर लेकर वार्ड की ओर जा रहे थे। जिस पर प्रभारी मंत्री की नजर उस पर पड़ी और उसे रोकर स्ट्रेचर के बारे में पूछा। जिस पर परिजन ने जवाब देते हुए बताया कि स्टेचर नहीं मिला। इसके बाद प्रभारी मंत्री का पार सातवे आसमान पर पहुंच गया। साथ रहे आधिकारी उनके भाव को भंप गये और सफाई देने के साथ ही स्ट्रेचर लेने के लिए दौड पडें। 

बंद मिला अस्पताल का जनरेटर

जानकारी के अनुसार जिला चिकित्सालय निरीक्षण के लिए गये प्रभारी मंत्री ने अस्पताल में जनरेटर की व्यवस्था देखी। जनरेटर रख-रखाव को देखकर वह नाराज हुए। मंत्री ने जनरेटर चला कर दिखाने के लिए कहा तो सारा भेद खुल गया। बताया गया कि एक जनलेटर चल गया लेकिन दूसर जनरेटर नहीं चालू हुआ। ऐसे में प्रभारी मंत्री ने कहा कि वह अस्पताल की व्यवस्था से संतुष्ट नहीं है। उन्होने लोगों को आगाह किया कि अस्पताल में किसी तरह की अव्यवस्था बर्दास्त नहीं की जायेगी।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER