2021/07/85-flyover-bridge-dhekha-rewa.jpg

रीवा में दो फ्लाईओवर ब्रिज शुरू हो चुके, तीसरा का निर्माण जल्द ही पूरा होगा, अब चौथा बनाने की तैयारी, यहां शुरू हुआ सर्वे

RewaRiyasat.Com
रीवा रियासत डिजिटल
14 Jul 2021

Flyover Bridge in Rewa City / रीवा. रीवा शहर में चौथा फ्लाईओवर ब्रिज बनाने की तैयारी शुरू कर दी गई है. यह ब्रिज भी रतहरा से चोरहटा के बीच मॉडल रोड में बनाया जाना सुनिश्चित किया गया है. रीवा में फिलहाल स्टेट गवर्नमेंट के दो ओवरब्रिज सेवाएं देना शुरू कर चुके हैं, जिनमें सिरमौर चौराहा और समान शामिल है. तीसरा ओवरब्रिज निर्माणाधीन है, जो रेलवे यानी केंद्र सरकार द्वारा बनवाया जा रहा है. इसका कार्य भी तेजी से चल रहा है. 

चौथे फ्लाईओवर ब्रिज की तैयारी, सर्वे शुरू 

अब स्टेट गवर्नमेंट का ही चौथा फ्लाईओवर ब्रिज बनाया जाना सुनिश्चित किया गया है. इसकी रूप रेखा भी तैयार कर ली गई है. यह ब्रिज शहर के ढेकहा तिराहा में टी-शेप में बनाया जाएगा. जिसका एक छोर सतना, एक प्रयागराज एवं एक छोर सेमरिया रोड को जोड़ेगा. इसके लिए सर्वे भी शुरू कर दिया गया है. 

1600 मीटर होगी लम्बाई 

बता दें कि बीते दिन सेतु निगम ने प्रमुख अभियंता कार्यालय भोपाल को प्रदेश सरकार द्वारा तीसरे फ्लाईओवर का प्रस्ताव भेजा गया है. इस प्रस्ताव में फ्लाईओवर की लंबाई 1600 मीटर रखी गई है. रेवांचल बस स्टैंड से ढेकहा तक वाहनों के आवागमन के दबाव को देखते हुए एक और फ्लाईओवर की जरूरत महसूस की जा रही है.

सेतु निगम के अधिकारियों ने दावा किया है कि 1600 मीटर लंबे फ्लाईओवर के निर्माण में 80 से 90 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है. इसके लिए बजट की व्यवस्था एसआरएस फंड (केंद्रीय सड़क निधि) से की जाएगी. वहीं भोपाल मुख्यालय भेजे गए प्रस्ताव में फ्लाईओवर की चौड़ाई 12 मीटर रहेगी. जबकि मध्य में इसकी ऊंचाई साड़े 6 मीटर निर्धारित की गई है.

मिलेगी जाम से मुक्ति 

रीवा में चौथे फ्लाईओवर ब्रिज के निर्माण कार्य की रूप रेखा तैयार कर ली गई है. इसका सर्वे भी शुरू कर दिया गया है. ढेकहा में बनने वाले इस ओवर ब्रिज से शहर की जनता को काफी राहत मिलेगी. क्योंकि इस क्षेत्र में अधिकाँश समय जाम लगा होता है. इस जाम की वजह से लोग अपने गंतव्य तक समय में पहुँच पाने में असमर्थ हो जाते हैं. इस जगह सतना, जबलपुर, नागपुर मार्ग की बसों का भी आवागमन होता है, जिसकी वजह से जाम की स्थिति निर्मित होती रहती है. 

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER