NEWS/vindhyacorp.jpg

Rewa: समर्थन मूल्य पर किसानों से विंध्याचल क्राप ने खरीदा 18999 क्विंटल गेहूं

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
03 Jun 2021

रीवा / Rewa। समर्थन मूल्य पर खरीदी करने के लिए बहुरीबांध समिति के स्थान पर गेहूं खरीदी के लिए अटरिया में खरीदी केन्द्र बनाया गया। जिसकी जवाबदारी विंध्याचल क्राप प्रोड्यूूसर कम्पनी लिमिटड को सौपी गई। जानकारी के अनुसार अटरिया खरीदी केन्द्र में काम करने कम्पनी ने व्यवस्था बनानी शुरू की।

किसानों की अपेक्षाओं में खरा उतरने के लिए हर वह प्रयास किया जिसकी आवश्यकता थी। अटरिया खरीदी केन्द्र ने सरकार द्वारा निर्धारित खरीदी लक्ष्य 2 हजार क्विंटल के करीब पहुंचते हुए करीब 18999 क्विंटल से ज्यादा गेहूं की खरीदी की। 

कोरोना गाइडलाइन का केन्द्रे में सख्ती से पालन

कोरोना काल होने से खरीदी केन्द्रों कोरोना गाइडलाइन का ध्यान रखने जिले के खाद्य अधिकारियों द्वारा निर्देशित किया गया था।

अटरिया केन्द्र में कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए केन्द्र के मजदूरों, पल्लेदारों को समय-समय पर मास्क और सेनेटाइजर का वितरण किया गया। वही संस्था के प्रभारी भी कोरोना गाइडलाइन का कड़ाई से पालन करते रहे।

छोटी सी जगह में बेहतर काम किया

अटरिया में खरीदी शुरू करने का काम जब मिला तो लगा यहां कैसे खरीदी हो जायेगी। 467 किसानो का पंजीयन है जिसमें 385 किसान अपनी उपज बंेचने अटरिया खरीदी केन्द्र पहुंच। इतने ज्यदा किसानेां से भीड ज्यादा होगी। लागो की अपेक्षाओं पर खरा उतरने के लिए आवाश्यक पहलुओं पर ध्यान देते हुए डटकर काम किया।

टोकन की बनाई व्यवस्था

किसानों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए खरीदी केन्द्र में उपज लेकर आने वाले किसानों के लिए टोकन की व्यवस्था की गई। सेंटर आने वाले किसानों में आपसी विवाद न हो इस बात का ध्यान रखते हुए हर दिन टोकन दिया जाता था। यह क्रम भीड़ बढने के साथ शुरू किया गया जो खरीदी के अंतिम दिन तक चलता रहा। 

किसानों ने दिया साथ

समर्थन मूल्य पर अटरिया में खरीदी कर रही विंध्याचल क्राप प्रोड्यूूसर कम्पनी लिमिटड ने किसानोे के साथ मित्रवत सम्बंध बनाए। किसानों को परेशानी न हो इसका विशेष ख्याल रखा गया।

खरीदी प्रभारी का इस तरह का व्यवहार देखकर किसानों ने भी खूब साथ दिया। लोगों ने खरीदी केन्द्र प्रभारी द्वारा बताए गये निर्देशों का पालन स्वयं किया। नम्बर आने पर तौल करवाया। 

सफलता का राज टीम वर्क

अटरिया केन्द्र में खरीदी कर रही विंध्याचल क्राप प्रोड्यूूसर कम्पनी लिमिटड कम्पनी ने खरीदी प्रभारी वीरेन्द्र कुमार मिश्र से बात करने पर पता चला कि उनकी इस सफलता का राज टीम वर्क है।

श्री मिश्रा ने कहा कि कार्य स्थल में कोई छोटा या बड़ा नही होता। सभी समान भाव से मिलकर जब काम करते हैं तो कई बार विपरीत परिस्थियों में भी व्यक्ति हर हाल में सफलता प्राप्त करता है।

नाराज भी हुए कुछ किसान

हर बडे काम में कुछ न कुछ कमी रह ही जाती है। 100 प्रतिशत खरा उतरने के बात तो नही की जा सकती। खरीदी केन्द्र में कुछ किसान असंष्ट भी रहे।

अनाज में कृषि का कचरा ज्यादा होने से उन्हे साफ करने के लिए कहना पड़ा। जिससे कई किसान नाराज भी हुए। लेकिन बाद में सभी को संतुष्ट करने का प्रयास किया गया।

Comments

इस तरह की खरीदी केन्द्र हम चाहते की हमारे बिछरहटा खरीदी केन्द्र मैं भी आपकी कंपनी संचालित करे ।

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER